Bharat band के बाद: शाम 7 बजे ग्रहमंत्री Amit Shah से मिलेंगे 15 किसान नेता

जयपुर।
मंगलवार को किसानों के आव्हान पर भारत बंद (8 December bharat band) का आयोजन किया गया। इसके कुछ ही समय बाद ग्रहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit shah) की ओर से 15 किसान नेताओं को बुलावा भेजा गया है। जानकारी में आया है कि भारतीय किसान यूनियन (Bhartiye kisan union) के प्रवक्ता राकेश टिकेत सिंघु बॉर्डर (Singhu border) पर संघ के नेताओं से मिलकर शाम की रुपरेखा तैयार करने में जुट गये हैं।

इससे पहले भारत बंद के दौरान देश में कई जगह पर किसानों के समर्थन में उतरे राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प होने की खबरें सामने आई हैं। पंजाब में भारत बंद का व्यापक असर देखा गया।

इधर, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात, बिहार समेत कई राज्यों में बंद का खास असर नहीं हुआ। हरियाणा में कई जगह भाजपा—कांग्रेस के कार्यकर्ता भिड़े। राजस्थान में भी एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं की भाजपा युवा मोर्चा की भिडंत हो गई।

किसानों के भारत बंद के बाद 9 दिसंबर को होने वाली बैठक से पहले ही अमित शाह के आमंत्रण से साफ हो गया है कि सरकार किसानों के मामले में काफी गंभीर है और सभी मुद्दों को बैठकर सुलझाने के मूड में है।

इससे पहले भी किसान संगठनों और केंद्र सरकार के कृषिमंत्री समेत कैबिनेट मंत्रियों के साथ 4 दौर की वार्ता हो चुकी है। किंतु कोई नतीजा नहीं निकलने के कारण सिंघु बॉर्डर, टीकरी, जयपुर—दिल्ली हाइवे और गाजियाबाद में किसानों ने ढेरा डाल रखा है।

यह भी पढ़ें :  समीक्षा: RSS पृष्ठभूमि के BJP अध्यक्ष सतीश पूनियां क्यों गए मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह?