New delhi.

लोकसभा चुनाव प्रचार जोरों पर है। देश में 7 चरण के मतदान के बाद 23 मई को परिणाम आएगा। उससे पहले Narendra modi official trailer को आज रात रिलीज किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बन रही इस बायोपिक में मोदी, इंदिरा गांधी, आरएसएस, कश्मीर मुद्दे, 2002 के दंगे, 2014 में बड़े सियासी बदलाव, नरेंद्र मोदी पर चलाये गए झूंठे मुकदमों से लेकर उनके द्वारा संन्यास लेकर देश के लिए लिए गए संकल्प को बखूबी चित्रित करने का प्रयास किया गया है। यहां देखिए ट्रेलर-

फ़िल्म 5 अप्रेल को रिलीज होगी। ऐसे में निश्चित तौर पर कहा जा सकता है कि इसका फायदा मोदी को मिलने वाला। देश प्रेम की भावना जगाती फ़िल्म को ऐसे वक्त पर रिलीज कर निर्माता निर्देशक भी चांदी कूटने की कोशिश में है, तो विपक्ष के लिए यह असहज स्थिति हो सकती है।

फिल्म के ट्रेलर से ही साबित होता है कि इसमें नरेंद्र मोदी को हीरो के रूप में दिखाया गया है, तो दूसरी तरफ उनके द्वारा सबका साथ सबका विकास को भी प्रमुखता दी गई है।

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तानाशाही भी फिल्म में दिखाई है, तो फ़िल्म यह भी दिखाती है कि आरएसएस को लेकर कांग्रेस पार्टी और इंदिरा गांधी का क्या रुख था।

फिल्म में देश को सबसे ऊपर प्रमुखता दी गई है। दल से ऊपर देश वाले नरेंद्र मोदी के डायलॉग को यहां पर भी भुनाने का प्रयास किया गया है। मोदी के बयान और डायलॉग खूब हैं।

पिछले लंबे अरसे से साएं की तरह मोदी के साथ हर कदम पर खड़े रहने वाले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और एनएसए अजीत डोभाल को भी फिल्म में प्रमुखता दी गई है।

देश में अगले महीने में लोकसभा के चुनाव हो रहे हैं। महीने की शुरुआती तारीख, यानी 5 अप्रैल को फिल्म सिनेमाघरों में आ रही है। इससे निश्चित तौर पर कहा जा सकता है कि इस फिल्म को लेकर विपक्ष हमलावर होगा, तो बीजेपी को पक्के तौर पर फायदा मिलने की संभावना है।

मामला चुनाव आयोग और सुप्रीम कोर्ट में भी पहुंच सकता है। बहरहाल महज 10 घंटे में एक ही फिल्म के ट्रेलर को लाखों लोगों के द्वारा देखा जा चुका है। एक्टिंग की बात की जाए तो पूरी फिल्म में विवेक ओबरॉय छाए हुए हैं।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।