नई दिल्ली/जयपुर।

देश के स्कूल जाने वाले करोड़ों छात्र-छात्राओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाली केंद्र की सरकार बड़ी योजना के द्वारा राहत देने का काम करने वाली है।

केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के मुताबिक नरेंद्र मोदी सरकार इस बात पर काम कर रही है कि स्कूल जाने वाले छात्र-छात्राओं के कंधों पर लटका वस्तुओं का भोज घटकर आधा रह जाए।

इतना ही नहीं, एमएचआरडी मिनिस्टर जावड़ेकर की माने तो विद्यालय जाने वाले सभी स्टूडेंट्स को खेल के लिए प्रोत्साहित करने हेतु नरेंद्र मोदी की सरकार ने एक बड़ी योजना पर काम किया है।

एमएचआरडी मिनिस्टर के मुताबिक केंद्र सरकार सभी विद्यार्थियों के बस्ते का बोझ आधा करके स्टूडेंट्स के लिए स्पोर्ट्स की एक्टिविटीज बढ़ाकर स्कूल टाइम के आधे पीरियड खेल के लिए निश्चित करने जा रही है।

केंद्र सरकार का मानना है कि विद्यार्थियों को कम उम्र में जबकि वह स्कूल जाने की योग्य होते हैं, तो उनके पीठ पर कम से कम किताबों का भोज होना चाहिए।

साथ ही साथ शारीरिक और मानसिक विकास के लिए पर्याप्त समय मिले, इसके लिए मोदी सरकार ने तय किया है कि स्कूल में कुल समय का आधा वक्त केवल खेल की गतिविधियों को दिया जाएगा।

एमएचआरडी मिनिस्टर के मुताबिक केंद्र सरकार की योजना जल्द ही अमल में लाई जाएगी, और अगले सत्र से ही देश के संपूर्ण विद्यालयों पर इसको लागू कर दिया जाएगा।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।