Nationaldunia

नई दिल्ली।
जम्मू—कश्मीर में पुलवामा जिले के अवंतिपोरा में कल हुए कायराना आतंकी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पाकिस्तान पर पहला वार किया है।

पाकिस्तान समर्थित आतंकी आदिल मोहम्मद डार ने गुरुवार को 350 किलोग्राम आरडीएक्स से भरी कार से सेना की बस को टक्कर मार दी थी, जिसमें सीआरपीएफ के 37 जवान शहीद हो गए और 5 जवान जख्मी बताए जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री के सरकारी आवास 7, लोक कल्याण मार्ग पर कैबिनेट कमेटी की बैठक में ऑन सिक्योरिटी (CCS) की अति महत्वपूर्ण बैठक में पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा फैसला लिया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई इस बैठक में पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया गया है, जिसकी लंबे समय से मांग की जा रही थी।

भारत के इस कदम के बाद पाकिस्तान की प्रतिक्रिया नहीं आई है, लेकिन जिस तरह से भारत ने पाकिस्तान की अंतर्राष्ट्रीय मंच पर घेरेबंदी की है, उससे साफ है कि आने वाले वक्त में पाकिस्तान में भूख से मरने वालों की संख्या बढ़ जाएगी।

इस बैठक में देश गृह मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, एनएसए अजीत डोवाल, खुफिया विभाग (आईबी) के उच्च अधिकारियों के अलावा तीनों सेनाओं के अध्यक्ष भी शामिल हुए।

बैठक में सीआरपीएफ के डीजी पुलवामा आतंकी हमले के बारे में कमेटी (CCS) को जानकारी दी। कमेटी की बैठक के बात अरूण जेटली ने कहा है कि पाकिस्तान से एमएफएन का दर्जा छीन लिया गया है।

आपको बता दें कि इससे पाकिस्तान के साथ भारत का खास व्यापार का दर्जा छिन गया है। अब पाकिस्तान को विश्वभर में व्यापार करने में पसीन छूट जाएंगे।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।