bjp congress rlp

जयपुर।
लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा की पहली सूची को जारी हुए 7 दिन से ज्यादा का समय बीते चुका है। पहली सूची में 16 उम्मीदवार घोषित किए जा चुके हैं, लेकिन बचे हुए 9 प्रत्याशियों की सूची का अब भी इंतजार है। बताया जा रहा है कि आज कांग्रेस की लिस्ट जारी की जाएगी, उसके बाद भाजपा अपने पत्ते खोलने वाली है।

कांग्रेस की आज दिल्ली में बैठक है। उसके बाद देर शाम तक कांग्रेस प्रदेश में उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भुपेंद्र सिंह हुड्डा के दखल पर कांग्रेस ने ज्योति मिर्धा को लेकर अपना रुख बदला है।

भाजपा सूत्रों का दावा है कि कांग्रेस के करीब आधा दर्जन सीटों पर नाम तय नहीं होने के कारण मामला अटका हुआ है। और कांग्रेस की सूची के चलते भाजपा अपने 9 प्रत्याशी तय नहीं कर पा रही है।

भाजपा के लिए सबसे पैचीदा सीट दौसा बन गई है। यहां पर राज्यसभा सांसद किरोडलाल मीणा के चेतावनी के बाद भाजपा पीछे हटती नजर आ रही है।

भाजपा दौसा से निर्दलीय विधायक ओम प्रकाश हुडला की पत्नी को टिकट देने पर विचार कर रही है, लेकिन किरोडीलाल मीणा के द्वारा अडंगा डालने के बाद मंथन किया जा रहा है।

दूसरी सीट नागौर है, जहां पर सबसे ज्यादा माथापच्ची हो रही है। भाजपा की यह सीट कांग्रेस के कारण अटकी हुई है।

बताया जा रहा है कि कांग्रेस यहां से पहले आएलपी के संयोजक हनुमान बेनीवाल को समर्थन देने का मन बना चुकी थी, लेकिन कल ही कांग्रेस की नेत्री ज्योति मिर्धा द्वारा भाजपा के प्रकाश जावडेकर से संपर्क करने के बाद कांग्रेस को अपना मन बदलना पड़ा है।

आज सुबह एक बार फिर कांग्रेस ने बेनीवाल को नागौर की जगह अजमेर से लड़ने को कहा, तो वह पीछे हट गए। इसके चलते कांग्रेस-बेनीवाल का गठबंधन फिर से संकट में पड़ गया।

बेनीवाल ने बाड़मेर, पाली और नागौर की सीटों पर कांग्रेस के साथ गठबंधन करने को कहा था, लेकिन कांग्रेस ने उनको नागौर सीट देने पर सहमति जताई थी।

बताया जा रहा है कि आज जैसे ही कांग्रेस की लिस्ट जारी होगी, उसके बाद भाजपा अपने पत्ते खोल देगी। कांग्रेस ने अभी तक सभी 25 सीटों पर चुनाव लड़ने का दावा किया है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।