22.2 C
Jaipur
बुधवार, अक्टूबर 28, 2020

भारतीय-अमेरिकी कोविड राहत कोष में घोटाला के लिए गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

सैन फ्रांसिस्को, 25 जुलाई (आईएएनएस)। अमेरिकी अधिकारियों ने सिएटल में बसे मुकुंद मोहन को हिरासत में लिया है जो पेशे से एक सीरियल उद्यमी है और माइक्रोसॉफ्ट व एमेजॉन जैसी कंपनियों में एक्जीक्यूटिव के पद पर भी काम कर चुका है। उसे कथित तौर पर जाली दस्तावेजों के साथ पेचेक प्रोटेक्शन प्रोग्राम (पीपीई) को ठगने और कोविड-19 राहत कोष में 55 लाख डॉलर से अधिक गबन करने के लिए हिरासत में लिया गया है।

मोहन को गुरुवार को अमेरिकी अटॉर्नी कार्यालय द्वारा पीपीपी घोटाले में आरोपी पाए जाने के चलते गिरफ्तार किया गया।

- Advertisement -satish poonia

उसने अपने खरीदे गए छह शेल कंपनियों के लिए पीपीपी अनुप्रयोगों के समर्थन में नकली और बदले गए दस्तावेज जमा कराए थे जिसमें नकली फेडरल टैक्स फाइलिंग और परिवर्तित निगमन दस्तावेज शामिल थे।

सिएटल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी अटॉर्नी ने आरोप लगाया है कि इसके बाद उसने अपने निजी लाभ के लिए कुछ पैसे अपने रॉबिनहुड ब्रोकरेज अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया।

मोहन ने मैसूर विश्वविद्यालय में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई की है और इसके बाद वह अमेरिका में माइक्रोसॉफ्ट की कंपनी में डायरेक्टर ऑफ इंजीनियरिंग बना। बेंगलुरू में वह स्टार्टअप ईकोसिस्टम में काफी मशहूर भी था।

फिलहाल मोहन कनाडा की रिटेल कंपनी बिल्डडायरेक्ट डॉट कॉम में मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी के पद पर कार्यरत है। यह इमारत के निर्माण करने से जुड़ी सामग्रियों की एक ऑनलाइन कंपनी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, फेडरल पीपीपी लोन का मकसद कोरोनावायरस महामारी के दौरान कर्मियों को बनाए रखने में व्यवसायों की मदद करने से है।

अमेरिकी अटॉर्नी कार्यालय के मुताबिक, लेकिन मोहन की कंपनियों में एक भी कर्मचारी को नियुक्त नहीं किया गया।

उदाहरण के तौर पर, मोहन ने महेंजो इंक नामक एक कंपनी के ऋणदाता के समक्ष जाली दस्तावेज प्रस्तुत कर उन्हें दिखाया कि उसके शेल फर्म में दर्जनों कर्मचारी हैं और कर्मियों के वेतन और पेरोल करों में वह लाखों डॉलर का भुगतान कर रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया कि कार्यक्रम की देखरेख करने के लिए फेडरल एजेंसी द्वारा बनाए गए एक डेटाबेस के मुताबिक, मोहन ने ऋणदाता पीपल्स बैंक से दावा किया कि 431,250 डॉलर का पीपीपी लोन 24 नौकरियों को बनाए रखेगा।

मोहन ने वास्तव में महेंजो को मई में एजिंग शेल कॉपोर्रेशन में विशेषज्ञता वाली एक कंपनी से खरीदा।

मोहन पहले एमेजॉन बिजनेस में उत्पाद प्रबंधन के निदेशक के रूप में और माइक्रोसॉफ्ट के क्लाउड एंड एंटरप्राइज बिजनेस में इंजीनियरिंग के निदेशक के रूप में काम कर चुका है।

यूएस अटॉर्नी ने यह भी दावा किया कि मोहन को जिगैंटिक एलएलसी नामक एक दूसरी कंपनी के लिए भी पीपीपी लोन के तौर पर 304,830 डॉलर मिल चुके हैं। लोन एक ऐसे इंसान को दिया गया जिसके पास न तो बिजनेस लाइसेंस है और न ही उसने कभी कर्मचारियों के वेतन या पेरोल करों का भुगतान किया।

मोहन का बेटा कंपनी का चीफ मार्केटिंग अफसर है और इसका जिक्र उसके लिक्ंडइन के प्रोफाइल में किया गया है।

मोहन और जिन टेक कंपनियों में उसने काम किए हैं, किसी ने भी इस पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
भारतीय-अमेरिकी कोविड राहत कोष में घोटाला के लिए गिरफ्तार 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

कांग्रेस ने मुंगेर घटना की तुलना जलियांवाला हत्याकांड से की

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। कांग्रेस ने बुधवार को मुंगेर घटना की तुलना जलियांवाला बाग हत्याकांड से की और बिहार सरकार पर निशाना साधा।...
- Advertisement -

गोवा में सस्ती प्याज पीडीएस के जरिए मिलेगी : मुख्यमंत्री

पणजी, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। गोवा में प्याज की कीमत में बढ़ने पर मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बुधवार को कहा कि भारतीय रसोई के लिए...

अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें 30 नवंबर तक निलंबित रहेंगी

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र ने बुधवार को भारत आने और यहां से जाने वाली शेड्यूल वाणिज्यिक अंतर्राष्ट्रीय उड़ान परिचालन को 30 नवंबर...

बंग्लादेश में कोरोना के 1,493 नए मामले, अब तक 5,861 मौतें

ढाका, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। बंग्लादेश में बुधवार को पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट में 1,493 नए लोग पॉजिटिव पाए गए,...

Related news

समदड़ी प्रधान पिंकी चौधरी को प्रेमी ने बनाया बंधक, फ़ोटो, वीडियो किये वायरल

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी ने अशोक चौधरी नामक एक व्यक्ति, जिसको कथित तौर पर पिंकी...

खेत पर छोड़ने के बहाने बंधक बनाया था, प्रधान पिंकी चौधरी लौटना चाहती हैं अपने पुराने पति के पास, अशोक चौधरी से नहीं की...

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky choudhary) के द्वारा भागने और कथित तौर पर अपने प्रेमी...

Pinky Choudhary पहले प्रेमी के साथ भागी, अब अपने पति के साथ जाना चाहती है

बाड़मेर। जिले की समदड़ी पंचायत समिति (Samdadi) प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky Choudhary) अपने प्रेमी के साथ भाग गई। उसके साथ शादी कर...

RLP पंचायत समिति और जिला परिषद सदस्य चुनाव अकेले लड़ेगी, फिर हुंकार भरेंगे हनुमान

जयपुर। नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी प्रदेश में आने वाले दिनों में होने वाले पंचायती राज व जिला...
- Advertisement -