Jaipur/nagaur/jhunjhunu

राजस्थान में 2 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर सियासी तलवारें खिंच गई है। दोनों ही प्रमुख दलों ने अपने-अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है।

नागौर की खींवसर विधानसभा सीट से हनुमान बेनीवाल के भाई नारायण बेनीवाल को गठबंधन के तहत राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी का उम्मीदवार बनाया गया है, जबकि मंडावा की सीट गठबंधन के तहत भारतीय जनता पार्टी के खाते में गई है, जहां से बीजेपी ने महिला उम्मीदवार सुशीला सीगड़ मैदान में उतारी है।

यहां पर कांग्रेस पार्टी ने भी रीटा चौधरी को टिकट दिया है, जो एक महिला हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी ने खींवसर विधानसभा सीट पर पूर्व नेता मंत्री हरेंद्र मिर्धा को एक बार फिर से मैदान मारने के लिए उतार दिया है।

बताया जा रहा है कि दोनों ही विधानसभा सीटों पर दोनों ही दलों की तरफ से सोमवार को नामांकन पत्र दाखिल कर दिए जाएंगे।

खींवसर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा व रालोपा के संयुक्त प्रत्याशी नारायण बेनीवाल सोमवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे, जिसमें प्रदेश सहित केंद्रीय स्तर के नेता भी भाग लेंगे।

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मनीष चौधरी ने बताया कि नारायण बेनीवाल की नामांकन सभा में सांसद हनुमान बेनीवाल भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़ भाग लेंगे।

पार्टी कार्यालय से जारी प्रेस बयानों के अनुसार खींवसर मुख्यालय पर जीएसएस के सामने पार्टी प्रत्याशी नारायण बेनीवाल की नामांकन सभा होगी, जिसमे नागौर सहित आस-पास जिलों के कार्यकर्ता व प्रदेशभर से भाजपा व रालोपा के पदाधिकारी जुटेंगे।

सांसद हनुमान बेनीवाल खींवसर में नामांकन से पूर्व मंडावा से भाजपा प्रत्याशी की नामांकन सभा मे भाग लेंगे, उसके बाद हेलीकॉप्टर से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व अन्य नेताओं के साथ खिंवसर आएंगे।

एनडीए से प्रत्याशी नारायण बेनीवाल ने कहा कि यह चुनाव खिंवसर की आम जनता व राज्य सरकार लड़ रही है और एक तरफ जहां उनकी वर्षों से जनता के सुख दुःख में साथ रहकर जनहित में किये गए कार्य है।

दूसरी तरफ राजशी रहन सहन में रहकर जनता को केवल वोट बटोकर अज्ञातवास में जाने वाले प्रत्याशी है।

उन्होंने सीएम अशोक गहलोत पर आरोप लगाते हुए कहा कि गहलोत नफरत की राजनीति करते है, उनके 9 माह के कार्यकाल में राज्य की जनता उनके शासन व किसानों के साथ किये गए छल को देख चुकी है।

नामांकन सभा मे भाजपा विधायक मोहन राम चौधरी, विधायक रूपाराम मुरावतीया, पूर्व विधायक मंजू बाघमार, पूर्व विधायक विजय सिंह, पूर्व विधायक मनोहर सिंह राठौड़, भाजपा जिला अध्यक्ष रमाकांत शर्मा सहित कई दिग्गज भाग लेंगे।