govt nursing job
govt nursing job

जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने जनघोषणा पत्र की समीक्षा बैठक में बताया कि राजकीय मेडिकल कॉलेजों में चिकित्सकों सहित अन्य संवर्गों के रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती की जाएगी।

उन्होंने मेडिकल कॉलेजों में 269 चिकित्सक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया को गति प्रदान के निर्देश दिए।

डॉ. शर्मा सोमवार को स्वास्थ्य भवन में आयोजित जनघोषणा पत्र क्रियान्वयन की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्हाेंने बताया कि राजमेस के लिए पैरामेडिकल के 428 रिक्त पद और 746 नर्सिंगकर्मियों के पद भरे जाने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से प्रतिनयुक्ति पर लिए जाने के साथ ही राजमेस के स्तर पर भी भर्ती की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है।

उन्होंने बताया कि राजस्थान एजूकेशन मेडिकल सोसायटी द्वारा 139 चिकित्सक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया के प्रथम चरण में 113 पदों के लिए भर्ती की प्रक्रिया पूर्णतः 55 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र जारी किए गए, जिनमें से 34 ने जॉइन किया।

द्वितीय चरण में 26 पदों के लिए भर्ती प्रक्रियाधीन है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, एवं उदयपुर में शोध कार्यों को बढ़ावा देने के लिए एमडीआरयू लैब की स्थापना की जा चुकी है।

कोटा, अजमेर तथा आरयूएचएस में एमडीआरयू लैब की स्थापना प्रक्रियाधीन है। झालावाड़ मेडिकल कॉलेज के प्रस्ताव भारत सरकार को प्रेषित करवा दिए गए है।

नवीन मेडिकल कॉलेजों में एमडीआरयू लैब की स्थापना के लिए प्रस्ताव भारत सरकार को प्रस्ताव भिजवाए जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि अजमेर, उदयपुर और कोटा मेडिकल कॉलेज में 100 स्नातक सीटें प्रत्येक कॉलेज(300) के लिए भारत सरकार द्वारा 93 करोड़ रूपये जारी किए गए हैं।

इसके साथ ही केन्द्र सरकार से जोधपुर एवं जयपुर मेडिकल कॉलेजों के विभिन्न विषयों में 46 पीजी सीटों की वृद्धि की स्वीकृति इस वर्ष मिल चुकी है तथा शेष मेडिकल कॉलेजाें में सीटों की बढ़ोत्तरी के लिए प्रस्ताव भिजवाए जा रहे हैं।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अजमेर मेडिकल कॉलेज में सुपरस्पेशिलिटी ब्लॉक की स्थापना के प्रस्ताव भी भारत सरकार को भेजे जाएंगे।

उन्होंने सीएसएस के अन्तर्गत 119 करोड़ 25 लाख रूपए की लागत से जयपुर में बन रहे राज्य कैंसर संस्थान तथा बीकानेर में 45 करोड़ रूपए की लागत से बन रहे टर्सरी कन्सर केयर सेन्टर के निर्माण कार्य और उपकरण खरीद प्रक्रिया को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि झालावाड़ में बन रहे टर्सरी कैन्सर केयर सेन्टर के निर्माण में भी गति लाई जाएगी।

एसएमएस में बनेगा मल्टीपल ऑरगन ट्रांसप्लान्ट इंस्टीट्यूट

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि पीएमएसएसवाई के तहत एसएमएस मेडिकल कॉलेज में सुपरस्पेशिलयिटी ब्लॉक के निर्माण के साथ मल्टीपल ऑरगन ट्रांसप्टलान्ट इंस्टीट्यूट की स्थापना की जाएगी।

उन्होंने बताया कि इसमें गुर्दा प्रत्यारोपण से सम्बंधित यूरोलोजी, नेफ्रोलोजी एवं ग्रेस्ट्रो एन्ट्रॉलोजी विभाग विभाग का उन्नयन किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि जोधपुर चिकित्सा महाविधालय में मल्टीपल ट्रांसप्लान्ट इंस्टीट्यूट भवन का निर्माण कार्य प्रारंभ किया जा चुका है।

राज्य में दिया जाएगा मेडिकल टूरिज्म को बढ़ावा

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि राज्य में मेडिकल टूूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए विशेष नीति बनाई जाएगी।

इसके लिए राजकीय महाविघालयों से सम्बद्ध चिकित्सालयाें में सुपर स्पेशियलिटी सेवाओं एवं ऑर्गन ट्रांसप्लान्ट सेवाओं का विकास किया जा रहा है।

उन्होने बताया कि 3 चिकित्सा महाविधालयों में 150 करोड़ रूपए की लागत से सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है।