जेट एयरवेज ने अटका दी 166 यात्रियों की जान, 30 के नाक-कान से निकला खून

26
nationaldunia
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

जयपुर।

मुंबई से जयपुर आ रही जेट एयरवेज की फ्लाइट में सवार 166 यात्रियों की जान पर तब बन आई, जब क्रू मैम्बर्स की लापरवाही के चलते प्लेन में प्रेशर मैंटेन करने वाला स्विच चालू नहीं किया गया।

इन सभी 166 यात्रियों में से 30 यात्रियों के नाक और कान से खून निकल आया, जिनके मास्क लगाकर बेहोश होने से बचाया गया।

जेट एयरेवज का B737 की 9W 697 फ्लाइट मुंबई से जयपुर के लिए रवाना हो रही थी। जिस दौरान केबिन क्रू वो स्विच ही ऑन करना भूल गया, जिससे ऑक्सीजन मेंटेन नहीं हो पाया।

मामला अलसुबह का है। आज ही आधी रात के बाद जेट एयरवेज की एक फ्लाइट मुंबई से जयपुर आ रही थी। टेक आॅफ करने के बाद अचानक यात्रियों को सांस लेने में तकलीफ होने लगी। इससे विमान में अफरा-तफरी मच गई।

आनन-फानन में क्रू मैम्बर्स ने यात्रियों को आॅक्सीजन मास्क पहनाए। लेकिन इस दौरान 30 यात्रियों के नाक और कान से खून निकला गया।

बाद में इस बात की जानकारी पायलट्स को दी गई तो मुंबई में ही प्लेन की आपात लैंडिंग करवाई गई। जानकारी के अनुसार सभी यात्री सुरक्षित हैं और उनकी मेडिकल जांच करवाने के बाद आज ही करीब 12.30 बजे जयपुर के लिए रवाना कर दिया जाएगा।

यात्रियोें ने इस घटना का वीडियो और फोटो जारी किए हैं। यह वीडियो—फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं, जिसके बाद जेट एयरवेज की थू थू हो रही है।

घटना के बाद जेट एयरवेज की ओर से सफाई जारी की गई है। एयरवेज का कहना है कि हादसे के बाद प्लेन को मुंबई वापस लाया गया है, इस दौरान फ्लाइट में 166 यात्री, 5 क्रू मेंबर्स उपस्थित थे। जिन यात्रियों को तकलीफ हुई है, उनका इलाज करवायाा गया है।

साथ ही जेट एयरवेज ने कहा है कि जो क्रू मेंबर्स इस फ्लाइट में थे, उनको रोस्टर से हटा दिया गया है। जब तक इस मामले की पूरी जांच नहीं हो जाती, तब तक सभी क्रू मैंबर ऑफ रोस्टर ही रहेंगे।