Ring road projects jaipur
Ring road projects jaipur

Jaipur news.
जयपुर की को राहत देने वाली सबसे बड़ी परियोजना, यानी ‘जयपुर रिंग रोड’ (Ring road jaipur) आज शुरू हो जाएगी। आज दोपहर में केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गड़करी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए इसका उद्घाटन करेंगे।

47 किलोमीटर के पहले फेज में से 27 किलोमीटर रोड वाहनों के लिए खोल दिया जाएगा। बहरहाल, दिल्ली—अजमेर नेशनल हाइवे से जयपुर—डिग्गी मालपुरा मेघा हाइवे होते हुए जयपुर—टोंक कोटा नेशनल हाइवे के लिए रिंग रोड आज शुरू हो जाएगी।

810 करोड रुपए की लागत से तैयार हो रही इस रिंग रोड के पहले फेज में 2 रेलवे ओवर ब्रिज, एक जयपुर मुंबई और दूसरा जयपुर दिल्ली बने हैं, जबकि दृव्यवती नदी के उपर भी पुल है। इसी तरह से इस रुट में 20 छोटे ब्रिज, 2 टोल प्लाजा के अलावा दो बड़े ओवर ब्रिज भी हैं।

इस बहुउद्देश्य परिजयोजना के शुरू होने से जयपुर के बीचों बीच से हर रोज गुजरने वाले 25000 वाहनों को बाहर से निकलने का मार्ग मिल जाएगा। अभी बी टू बायपास होते हुए 15000 वाहन हर दिन निकल रहे हैं, जिससे दुर्घटनाएं होती रहती हैं।

आपको बता दें कि इस रोड की योजना साल 2003 से 2008 वाली वसुंधरा राजे सरकार ने बनाई थी, जिसका उद्घाटन आज से 9 साल पहले, 2011 में हुआ था। इसके लिए 24 जून 2011 को निर्माण कंपनी और जेडीए के बीच करार हुआ, लेकिन लंबा नहीं चला। काम से पहले ही यह करार खटाई में पड़ गया। दोनों के बीच करार के अनुसार केवल 21 महीनें में यह रोड तैयार होनी थी।

इसके बाद साल 2013 से 2018 की वसुंधरा राजे सरकार के वक्त जेडीए की नाकामी के चलते इस पर खूब विवाद हुआ। आखिर 30 महीनें की माथापच्ची के बाद इस परियोजना राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एनएचआई को सौंप दी गई। वसुंधरा राजे सरकार के समय ही 11 अगस्त 2017 को परियोजना तैयार करने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने काम शुरू किया।

योजना की बात करें तो इस रोड की चौडाई 360 ​मीटर है। करार खत्म होने के बाद एचएचआई से 200 करोड़ रुपए जेडीए को मिले हैं। इस रोड के 90 मीटर में रिंग रोड है। इसके अलावा दोनों तरफ 135—135 मीटर में एक कॉरिडोर डवलेप किया गया है, जो आवासीय और कॉमर्शियल योजना के तहत है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें।