IPS pankaj choudhary
IPS pankaj choudhary

Jaipur news.

राजस्थान कैडर में भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के वरिष्ठ अधिकारी पंकज चौधरी की केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आज सेवाएं समाप्त कर दी है।

राजस्थान सरकार के कार्मिक विभाग ने सेवा समाप्त करने का नोटिस IPS पंकज चौधरी के घर पर चस्पा कर दिया है।

IPS पंकज चौधरी बर्खास्त, राजस्थान सरकार से पंगा पड़ा भारी 1

स्मरण रहे पंकज चौधरी पिछली सरकार में काफी विवादास्पद रहे थे। राज्य की पूर्ववर्ती वसुंधरा राजे सरकार से पंगा लेना उनके लिए महंगा पड़ा। साथ ही आईपीएस पंकज चौधरी अपने उच्च अधिकारियों से भी बार-बार पंगा लेते रहे थे। आरोप यह भी है उन्होंने दो शादियां भी कर रखी हैं।

IPS पंकज चौधरी बर्खास्त, राजस्थान सरकार से पंगा पड़ा भारी 2

आईपीएस पंकज चौधरी की एक पत्नी राज्य की पूर्व विधि मंत्री शशि दत्ता की पुत्री हैं, जो कि वर्तमान में उनके साथ रहती हैं। आईपीएस पंकज चौधरी को राजस्थान का आईपीएस अशोक खेमका भी कहा जाता है।

उनको जैसलमेर से बूंदी और बूंदी से जयपुर ठंड में लगाने का काम पिछली सरकार ने किया था। जिसको कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार ने जारी रखा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे वाली बीजेपी की सरकार के वक्त आईपीएस पंकज चौधरी को लेकर कई बार चार्जशीट पेश की गई।

IPS पंकज चौधरी बर्खास्त, राजस्थान सरकार से पंगा पड़ा भारी 3

राज्य सरकार ने आईपीएस चौधरी की सेवाएं समाप्त करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय को लिखा था। IPS अधिकारी पंकज चौधरी को लेकर कई पुलिस अधिकारियों ने राज्य सरकार व केंद्र सरकार को शिकायतें भेज रखी हैं।

IPS Pankaj Chaudhary पहली बार तब चर्चा में आए थे, जब पूर्वर्ती कांग्रेस के अशोक गहलोत सरकार के वक्त जैसलमेर के SP रहते हुए उन्होंने वर्तमान अल्पसंख्यक मंत्री और विधायक साले मोहम्मद के पिता गाजी फकीर की हिस्ट्रीशीट खोल दी थी।

इसके बाद आईपीएस पंकज चौधरी को बूंदी एसपी लगाया गया था, लेकिन वहां पर नैनवा में हुए सांप्रदायिक दंगों के दौरान बीजेपी सरकार ने आरोप पत्र देकर ठंड में लगा दिया था।

बूंदी जिले के नैनवा में हुए सांप्रदायिक दंगों में लापरवाही बरतने और अनुशासनहीनता को लेकर हमेशा निशाने पर रहे हैं।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अपने नोटिस में आईपीएस पंकज चौधरी को खुद की पत्नी होते हुए बिना तलाक और शादी किए हुए दूसरी पत्नी रख ली थी। जबकि पूर्व पत्नी से एक बच्ची हो चुकी थी।