27 C
Jaipur
रविवार, सितम्बर 27, 2020

यूं ही नहीं बना जाता है चैम्पियन

- Advertisement -
- Advertisement -

बीजिंग, 29 अगस्त (आईएएनएस)। एक समय था, जब खेलकूद को सिर्फ मनोरंजन का हिस्सा माना जाता था, लेकिन आज के दौर में बच्चे सिर्फ पढ़ाई से ही नहीं, बल्कि खेलकूद कर भी दुनियाभर में अपनी अलग पहचान बना रहे हैं। आज खेलों की संभावनाएं काफी बढ़ गई हैं, सभी स्कूलों में खेल को जरूरी कर दिया गया है, यानी अगर पढ़ाई के साथ-साथ खेलना भी चाहते हैं, तो इसकी शुरूआत के लिए स्कूल सबसे अच्छी जगह है। खुद को फिट रखने के लिए खेलकूद एक उत्तम विकल्प भी है।
हालांकि, यह सच है कि खेल और पढ़ाई साथ चलाने के लिए कुछ ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। ठीक वैसे ही जैसे चीन में छोटे-छोटे बच्चे करते हैं। चीन के स्कूलों में बच्चे 6 साल की उम्र से ही जिमनास्टिक्स, खेलकूद आदि की ट्रेनिंग लेना शुरू कर देते हैं। अधिकांश चीनी माता-पिता अपने बच्चों को स्पोर्ट्स स्कूल में भेजते हैं, जहां उन्हें सख्त ट्रेनिंग दी जाती है और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए तैयार किया जाता है। चीनी माता-पिता को अपने बच्चों के लिए स्पोर्ट एक सुनहरा करियर ऑपशन लगता है।

सब जानते हैं कि खेल की दुनिया में चीन ने ऐसा दबदबा कायम किया कि वह ओलंपिक खेलों में सुपरपावर बन गया। उसके लिए खेल का महत्व किसी युद्ध से कम नहीं है। उसकी सफलता के पीछे एक खास मिशन है, जिसके तहत वह लगातार आगे बढ़ता गया और अपनी मेडल तालिका को मजबूत बनाता गया।

दरअसल, 1980 के ओलंपिक खेलों के बाद से चीन की खेल प्रणाली काफी हद तक मजबूत हुई, और ओलंपिक खेलों में बहुत अधिक स्वर्ण पदक हासिल करने के बारे में चीन सरकार ने सोचना शुरू किया, और बहुत जल्दी सफलता हासिल करने के लिए युद्धस्तर पर तैयारी की। चीन खेल अकादमियों, टैलेंट स्काउट्स, मनोवैज्ञानिकों, विदेशी कोचों, और नवीनतम प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान पर लाखों डॉलर खर्च करता है। चीन उन खेलों में विकासशील कार्यक्रमों पर विशेष जोर देता है जिनमें बहुत अधिक इवेंट्स होते हैं और बहुत सारे पदक जीतने की संभावना होती हैं, जैसे शूटिंग, जिमनास्टिक, तैराकी, नौकायन, ट्रैक एंड फील्ड आदि।

आज, चीन के 96 प्रतिशत राष्ट्रीय चैंपियन सहित लगभग 3 लाख एथलीटों को चीन के 150 विशेष स्पोर्ट्स कैंप में ट्रेनिंग दी जाती है, जैसे वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल एजुकेशन, चच्यांग फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स स्कूल और अन्य हजारों छोटे-बड़े ट्रेनिंग केंद्र। दक्षिण चीन के युन्नान प्रांत की राजधानी खुनमिंग में हैगन स्पोर्ट्स ट्रेनिंग बेस चीन का सबसे बड़ा खेल प्रशिक्षण कैंप है। अतिरिक्त 3,000 स्पोर्ट्स स्कूल टैलेंट की पहचान और उनका पोषण करने का जिम्मा संभालते हैं।

इन स्पोर्ट्स स्कूल में कम उम्र के बच्चे बेहद कड़ी ट्रेनिंग से गुजरते हैं। इस तकलीफ को सहकर ही वे चैंपियन बनने की कला सीखते हैं। तभी तो ओलिंपिक हो या एशियन गेम्स, हर इवेंट्स में गोल्ड जीतने के लिए चीनी खिलाड़ी ऐड़ी-चोटी का जोर लगाते हैं। भले ही चीनी एथलेटिक्स अन्य देशों से आगे हों, लेकिन इस मुकाम को हासिल करने के लिए उन्हें कड़ी मेहनत और ट्रेनिंग से गुजरना पड़ता है। इसी कारण लगभग हर खेलों में चीनी खिलाड़ियों की धूम रहती है।

(लेखक : अखिल पाराशर, चाइना मीडिया ग्रुप, बीजिंग)

(साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
यूं ही नहीं बना जाता है चैम्पियन 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

कोविड-19: स्पेन के मंत्री ने सख्त नियम न होने पर गंभीर परिणाम की चेतावनी दी

मैड्रिड, 27 सितंबर (आईएएनएस)। स्पेन की सरकार ने मैड्रिड में अधिकारियों से शहर में कोरोनावायरस प्रतिबंधों को और सख्त करने का आग्रह किया है।...
- Advertisement -

कलाशांति ज्योतिष साप्ताहिक राशिफल (28 सितंबर से 4 अक्टूबर)

मेष लग्नराशि : इस सप्ताह मेष राशि के जातक/जातिकाओं को धन से जुड़े मामलों मैं अच्छे लाभ मिलने के संकेत हैं। इस हफ्ते आपका...

आतंकियों को कंधार तक छोड़ने वाले पूर्व विदेश मंत्री जसवंत सिंह का 82 की उम्र में निधन

जयपुर/बाड़मेर। अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में विदेश मंत्री रहे जसवंत सिंह जसोल का आज सुबह 82 वर्ष की उम्र में निधन...

आईपीएल-13 : विजयी क्रम बरकरार रखना चाहेंगी पंजाब-राजस्थान (प्रीव्यू)

शारजाह, 26 सितंबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। किंग्स इलेवन पंजाब की इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें संस्करण की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। उसे पहले मैच...

Related news

जयपुर: प्रेम-प्रंसग में 23 वर्षीय छात्रा को दिन-दहाड़े चाकू मारा, फिर दागी तीन गोलियां

-युवक गिरफ्त में, फिलहाल पूछताछ जारीजयपुर। आदर्श नगर थाना इलाके में शनिवार सुबह सरेराह एक युवक ने प्रेम प्रंसग के चलते चाकू...

आईपीएल-13 : अबू धाबी में आज होगी कोलकाता और हैदराबाद की टक्कर

अबु धाबी, 26 सितंबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। आईपीएल के 13वें सीजन के आठवें मैच में शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) की टक्कर सनराइजर्स हैदराबाद के...

वसुंधरा राजे को उपाध्यक्ष बना राज्य से पूरी तरह बाहर ले गए हैं नड्डा

जयपुर/दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की नई टीम का ऐलान कर दिया गया है। राजस्थान से 5 लोगों...

दिल्ली में कोरोना संक्रमण धीरे-धीरे हो रहा कम : केजरीवाल

नई दिल्ली, 24 सितम्बर (आईएएनएस)। दिल्ली सरकार का मानना है कि दिल्ली में कोरोना वायरस की दूसरी लहर आ चुकी है। साथ ही दूसरी...
- Advertisement -