बेनीवाल-डूडी: एक की भतीजी तो दूसरे की भांजी ने ठोकी ताल!

230
nationaldunia
- Advertisement - dr. rajvendra chaudhary

आपका विज्ञापन नेशनल दुनिया पर लगायें, प्रतिदिन हजारो लोगो तक आपके बिजनेस को पहुंचाए विज्ञापन रेट मात्र 100 रूपये प्रतिदिन से शुरू...

—बेनीवाल की भतीजी तो डूडी की भांजी उतरीं उन्हीं के खिलाफ मैदान में

जयपुर। सियासत की महात्वाकांक्षा व्यक्ति् को रिश्ते—नाते भुलाने के लिए काफी है। वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य में यह बात एकदम सटीक बैठती नजर आ रही है। इस परिस्थिति का सामने करने वाले नेता हैं निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल और नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर लाल डूडी।

हनुमान बेनीवाल राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के नाम से नया दल बनाकर सुर्खियों में आए हैं तो डूडी ने पांच साल से विधानसभा में कांग्रेस पार्टी का प्रतिनिधित्व कर रहे है। दोनों ही चुनाव के लिए मैदान में उतर चुके हैं, लेकिन पारिवारिक बगावत उनके सामने बाहें फैलाकर खड़ी हैं।

बताया जा रहा है कि बेनवाील के सामने उनके ही परिवार में बड़े भाई लगने वाले दिवंगत पूर्व सरपंच रामप्रसाद बेनीवाल की बेटी डॉ. अनिता बेनीवाल ने खींवसर विधानसभा से ताल ठोक रखी है। वह बीजेपी के टिकट का दावा कर रही हैं।

डॉ. अनिता बेनीवाल खुद को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की फॉलोवर कहतीं हैं। सामने आया है कि उनके परिवार में पहले से जारी सियासी खींचतान का फायदा उठाते हुए बीजेपी द्वारा हनुमान बेनीवाल को घेरने के लिए उनका इस्तेमाल किया जा रहा है।

इधर, डूडी की भांजी इंदु तर्ड ने भी अपने मामा के खिलाफ ताल ठोक डाली है। बताया जा रहा है कि उनको जिला प्रमुख नहीं सुशीला खींवर को बनाया गया था। इंदु को उपजिला प्रमुख बनाए जाने का बदला लेने के लिए उन्होंने अपने ही मामा से बगावत शुरू कर दी है।

बताया जाता है कि इंदु तर्थ के ससुर और रामेश्वर लाल डूडी कभी व्यापारिक तौर पर भी रिश्तेतार थे, लेकिन समय बदला और सियासत ने दोनों को राजनीतिक दुश्मन बना डाला। हनुमान बेनीवाल द्वारा राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के टिकट पर इंदु तर्ड को मैदान में उतारे जाने की चर्चा है।

हालांकि, इस प्रकरण में बीजेपी का नाम भी सामने आ रहा है, तो साथ ही सचिन पायलट द्वारा भी इंदु तर्ड को शह देने की बात ने सियासत गर्मा दी है। कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद की खींचतान के बीच पायलट द्वारा इसे रामेश्वर लाल डूडी का विरोध कहा जा रहा है।

9828999333 पर सम्पर्क कर आप भी हमारी टीम का हिस्सा बनिए। ऐसी ही और खबरों के लिए फेसबुक और ट्वीटरऔर यू ट्यूब पर हमें फॉलो करें। सरकारी दबाव से मुक्त रखने के लिए आप हमें paytm N. 9828999333 पर अर्थिक मदद भी कर सकते हैं।