जयपुर।

राजस्थान आवासन मंडल ने आज 1 महीने के भीतर दूसरी बड़ी कार्रवाई करते हुए महल रोड पर 150 करोड़ पर की जमीन खाली करवाई है।

आवासन मंडल के कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि खसरा नंबर 319, जिस जमीन पर काश्तकार ने कब्जा कर रखा था और उसको विवाह स्थल वाले और मार्बल व्यापारियों को किराए पर दे रखा था, उसे आज खाली करवा लिया गया है।

जानकारों का कहना है कि इस जमीन को पहले भी आवासन मंडल खाली करवा सकता था, लेकिन अधिकारियों की मिलीभगत के चलते जमीन का सुधार के कब्जे में थी।

इधर आवासन मंडल के आयुक्त पवन अरोड़ा ने मौके पर जाकर पूरी जमीन का मुआवजा किया और जमीन खाली करने के निर्देश दिए।

बता दें कि इस जमीन को बीते लंबे समय से काश्तकार प्रयोग कर रहा था। इससे पहले ही आवासन मंडल जमीन का मुआवजा काश्तकार को दे चुका था, जबकि आधा कोर्ट में जमा करवा चुका था।

ऐसे में जमीन पर मालिकाना हक नहीं बचता था, बावजूद इसके करके पर जमीन देने का काम कर रहा था।

आवासन मंडल आयुक्त पवन अरोड़ा के मुताबिक इस जमीन पर आवासन मंडल अपने मुताबिक योजना बनाकर काम करेगा।

उन्होंने बताया कि जयपुर राजस्थान में आवासन मंडल की जितनी भी जमीन पर अवैध कब्जे किए हैं, उन सभी को एक अभियान के तहत कार्रवाई कर खाली करवाया जाएगा, ताकि आवासन मंडल अपने मुताबिक सभी का सीमांकन और प्लान बनाकर काम किया जा सके।