Jaipur

राजस्थान में लगातार तीन दिन से हुई भारी बारिश के बाद 6 जनों की मौत हो गई।

जयपुर के चाकसू इलाके में 11 इंच बरसात होने के कारण निचले इलाकों में पानी भर गया और छोटे-बड़े कई तालाब लबालब होने के बाद टूट गए। बारिश की हालात के वीडियो देखिए यहां पर, क्लिक करिए

यहां के हालोराव तालाब टूटने से चाकसू कस्बे में कहीं जगह 3 से लेकर 5 फीट तक पानी भर गया। रावता बांध में भी रिसाव हो गया है, जिसके कारण खतरा बढ़ा है।

इधर श्रीगंगानगर, टोंक, सवाई माधोपुर सहित कई जिलों में जोरदार बरसात होने से निचले इलाकों में जबरदस्त पानी भर गया।

बरसात के कारण हुए हादसों में अब तक 6 लोगों की जान जाने की सूचना मिली है। सवाई माधोपुर के पास को में डूबने के कारण दिलराज मीणा की मौत हो गई।

झुंझुनू में 14 साल के राजेश डूब कर मृत्यु के काल में समा गए। खेतड़ी में भीग 19 साल के शुभम और सीकर में दो युवकों की डूबने से मौत हो गई।

सवाई माधोपुर और जयपुर में एक छात्र 17 साल के मनीष की मौत हो गई। राजधानी जयपुर केसी बिरला हॉस्पिटल में दीवार गिरने से 12 लोग घायल हो गए।

दूसरी तरफ बीसलपुर बांध में अभी भी पानी की आवक नहीं हुई है। यहां पर जल स्तर 304 8 आ रही है।

बस्सी रेलवे स्टेशन पर पानी भरने के कारण जयपुर मथुरा पैसेंजर ट्रेन दौसा जयपुर के बीच रद्द कर दी गई है।

जयपुर से खैरथल एक्सप्रेस और रानीखेत एक्सप्रेस, पोरबंदर मुजफ्फरनगर एक्सप्रेस जयपुर इलाहाबाद एक्सप्रेस आज भी एक से लेकर 2 घंटे देरी से चल रही है।

जयपुर से तीन हवाई उड़ाने 40 मिनट के लिए होल्ड कर दी गई किया गया है। पूर्वानुमान है कि राज्य में पूर्वी इलाकों में भारी बरसात होगी।

मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए लोगों को सजग रहने के लिए कहा है।

राजधानी जयपुर में 1 साल पहले ही सुंदरता के लिए बनाई गई द्रव्यवती नदी पर लगाए गए और पोल गिरने लगे हैं।

बरसात की बात की जाए तो चाकसू में 292 एमएम, बस्सी में 188 एमएम, कोटखावदा में एमएम 198 एमएम, जयपुर में 187 एमएम, उदयपुरवाटी में 127mm, झुंझुनू में 84 एमएम बरसात दर्ज की गई है।