Hawan poojan

दिनेश कड़वा

परबतसर के निकटवर्ती ग्राम झुंझारपुरा में चल रहे पंच दिवसीय शिवमंदिर मूर्ती प्राण प्रतिष्ठा समारोह के तिसरे दिन पंडित अखिलेश रामयणी, पंडित रुघ शर्मा व पंडित मुकेश शर्मा ने मंत्रों उच्चारण के साथ यजमानों से यज्ञ में आहुतियां देकर जनमंगल और राष्ट्र कल्याण की कामना की।

साथ ही पंडित अखिलेश रामयणी ने कहा कि कहा कि विधाता ने संसार को यज्ञ स्वरूप बनाया है। श्रृष्टि के आदि से यज्ञ निरंतर चले रहे हैं। परमात्मा का एक नाम यज्ञ भी है।

यज्ञ के माध्यम से ही मानव को प्रेरणा दी है कि श्रेष्ठ कर्म कर जीवन को सफल बनाए। मानव जीवन को सार्थक बनाने के लिए प्रत्येक मनुष्य को यज्ञ स्वरूप परमात्मा का पूजन करना चाहिए।

कल रविवार प्रातः11.15 नवनिर्मित शिवमंदिर मे भगवान शिव का महाअभिषेक होगा। उसके उपरांत 4 मार्च सोमवार महाशिवरात्रि के दिन मुर्ती मंदिर मे प्राणप्रतिष्ठा समारोह होगा। इस मौके पर भक्त जन व झुंझारपुरा के समस्त ग्रामवासी मौजूद रहे।