परम भक्त हनुमान बेनीवाल तेजाजी के इन भजनों की धुन पर करते हैं चुनाव प्रचार…

471
nationaldunia
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

जयपुर।
अपनी गाड़ी में, जबकि वह यात्रा कर रहे होते हैं, तो 24 घंटे तेजीजी के ही भजन बजाते हैं। अपने हर छोटे—बड़े कार्यक्रम से पहले और बाद में तेजाजी के देवरे, यानी खरनाल अपने इष्ट को ढोक लगाने से नहीं चूकते। सुनिए राजस्थान री धरती….

चाहे चुनाव की तैयारी हो, प्रचार का समय हो, चाहे कितने भी बड़े काम हो, लेकिन खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल अपने इष्ट को याद किए बिना कोई काम नहीं करते। सुनिए वाह रे कुंवर तेजा…

अब, जबकि तेजाजी के भजनों की बयान पूरे नागौर समेत राजस्थान के कोने—कोने में गूंज रही है, तब भी बेनीवाल के वाहन में हर वक्त तेजाजी के ही भजन बजते रहते हैं। सुनिए रानी रंगीली…

बेनीवाल के साथ रहने वाले उनके कार्यकर्ताओं को भी पता है कि नेताजी को कौन से भजन पंसद हैं। इसलिए उनके लिए छांटकर वही भजन गाड़ी में बजाए जाते हैं। सुनिए गाज्यो गाज्यो जेठ आषढ कंवर तेजा…

जब हनुमान बेनीवाल अधिक व्यस्त रहते हैं, या लंबी यात्रा पर होते हैं तो उनके लिए तेजाजी के भजनों का बड़ा कलेक्शन साथ रहता है, ताकि कहीं भी यात्रा के दौरान भजनों की संख्या कम नहीं रह जाएं। सुनिए सुणो सुणो पेमल…

कभी जब भी नागौर में तेजाजी का नया भजन जारी होता है, तो अधिकांश तो खुद बेनीवाल ही उसे लांच करते हैं, लेकिन ऐसा नहीं होने पर भी भजन की सीडी उनके पास पहुंच जाती है। सुनिए लीलण सिंगारे….

प्रदेश में चुनाव प्रचार चरम पर है, लेकिन इसके बीच भी हनुमान बेनीवाल अपने इष्ट को उसी रूप में और उसी ताकत, तन्मयता और जूनून के साथ याद करते हैं, जैसे बारह माह करते हैं। सुनिए सुनो सुनो तेजल….

जयपुर के सरकारी आवास ही नहीं, बल्कि नागौर में बेनीवाल के निजी आवास में भी तेजाजी के लिए विशेष स्थान है। उनके साथ लंबे समय से रहने वाले कार्यकर्ता बताते हैं कि बेनीवाल के लिए तेजाजी ही सबसे बड़े देवता हैं, और उन्हीं के आशीर्वाद से वह चल रहे हैं। सुनिए आयो आयो भादवा को म्हीनों तेजाजी….