जयपुर/बीकानेर।

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक हनुमान बेनीवाल कल एक बार फिर से विश्वविद्यालय के मैदान में छात्र हितों के लिए संघर्ष करते हुए दिखाई देंगे।

हनुमान बेनीवाल ने ऐलान किया है कि बीकानेर विश्वविद्यालय में विश्वविद्यालय प्रशासन के द्वारा छात्रों की फीस वृद्धि की गई है, उसके विरोध में कल 11:30 बजे विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ आंदोलन का बिगुल बजायेंगे।

हनुमान बेनीवाल ने इसके साथ ही बीकानेर संभाग के सभी जनप्रतिनिधियों, छात्र संगठनों और युवा संघों से आह्वान किया है कि विश्वविद्यालय के खिलाफ छात्रों के हित में उनके द्वारा किए जा रहे इस आंदोलन में शिरकत करें।

खींवसर विधायक बेनीवाल ने कहा कि राजस्थान में विश्वविद्यालयों के अंदर छात्र संघों को सरकार ने पूरी तरह से नेस्तनाबूद कर दिया है। पुलिस और विश्वविद्यालय प्रशासन की छात्र संघों के खिलाफ दादागिरी खुलेआम हो गई है। छात्र नेताओं को पुलिस के द्वारा बेज्जत किया जाता है और बिना वजह थानों में घसीट लिया जाता है।

विश्वविद्यालय प्रशासन और पुलिस की खुलेआम दादागिरी की ओर इंगित करते हुए हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि पहले छात्र संघ अध्यक्ष का रुतबा हुआ करता था, जिसको लिंगदोह कमेटी की आड़ में खत्म कर दिया गया है। उन्होंने लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों को भी हटाने की मांग की है।

गौरतलब है कि बीकानेर की सरकारी विश्वविद्यालय में बीते दिनों विश्वविद्यालय प्रशासन के द्वारा छात्रों की फीस में बेतहाशा वृद्धि कर दी गई। जिसके विरोध में कई छात्रों ने धरना में अनशन शुरू कर दिया। पुलिस के द्वारा छात्रों को उठाकर जेल में बंद कर दिया गया है, जहां भी छात्रों का अनशन जारी है।

उल्लेखनीय है कि हनुमान बेनीवाल खुद भी राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्रसंघ अध्यक्ष रह चुके हैं। उससे पहले वह विधि महाविद्यालय के अध्यक्ष रहे और सबसे पहले महाराजा कॉलेज के अध्यक्ष रहे थे। उन्होंने अपने जमाने में छात्र हितों के लिए कई बड़े आंदोलन की है और जेल भी गए।