दिनेश कड़वा@कुचामनसिटी।
नागौर में जिस तरह लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक उबाल आया है, उससे लग रहा है कांग्रेस के प्रतिद्वंद्वी पार्टी भाजपा का निशान ईवीएम मशीन से गायब हो गया है।

भाजपा ने आरएलपी के साथ गठबंधन कर अपने आप को कमजोर दिखाया है। अब मेरे सामने वाले प्रत्याशी को नागौर की जनता का कांग्रेस पार्टी के प्रति जोश देखकर लोकसभा चुनाव से अपना मैदान छोड़ देना चाहिये। यह बात गुरुवार को लोकसभा चुनाव की नागौर से कांग्रेस की टिकट लेकर पहली बार कुचामनसिटी पहुँची ज्योति मिर्धा ने कही।

ज्योति मिर्धा अपने समर्थकों के साथ गुरुवार को नागौर के दौरे पर रहीं जो सबसे पहले परबतसर पहुँची। परबतसर से ज्योति मिर्धा करीब 1 बजे कुचामन शहर के मेगा हाइवे पर स्थित होटल शारदा पहुँची, जिनका कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने चूनड़ी ओढ़ाकर माल्यार्पण द्वारा स्वागत किया।

इस मौके पर मीडिया से रूबरू होते हुवे ज्योति मिर्धा ने बताया कि भाजपा सरकार ने पिछली बार 2 लाख युवाओं को 15 लाख रुपये खाते में डालने को लेकर जो झूठा वादा किया है, नागौर के युवा समझ चुके है।

अब दुबारा इस जाल में फसने वाले नहीं हैं। एक सवाल के जवाब में मीडिया को बताया कि कांग्रेस अपने घोषणा पत्र को लेकर बहुत अधिक रोजगार के अवसर युवाओ को उपलब्ध करायेगी ओर केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनेगी।

मैंने 2009 में बाबा की पोती के नाम पर वोट मांगे थे, मगर 2014 में मामूली अन्तर से चुनाव हार गई।इस बार मे अपने कामकाज के बलबूते वोट मांगने आई हूं, जिसमे नागौर का युवा जोश खरोश के साथ आगे बढ़ रहा है।

भाजपा ने आरएलपी के साथ गठबंधन कर अपनी कमजोरी दिखाई है, जिसको लेकर अब हनुमान बेनीवाल से कोई पार नही पड़ेगी।

ज्योति मिर्धा कुचामन में अल्प समय रुकने के बाद मौलासर, डीडवाना, जायल होते हुए खरनाल के लिये निकलीं, जहाँ पर वीर तेजाजी महाराज के धोक लगाकर चुनावी बिगुल बजायेगी।

इस मौके पर ज्योति मिर्धा के साथ नावाँ विधायक महेन्द्र चौधरी, परबतसर विधायक रामनिवास गावड़िया, लाडनू विधायक मुकेश भाकर, मकराना के पूर्व विधायक जाकिर हुसैन गैसावत, परबतसर के पूर्व विधायक राकेश मेघवाल जिन्होंने कांग्रेस की सदस्यता ली, दीपक नेहरा,रामनिवास पोषक सहित अनेक कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।

अब हम साथ साथ
ज्योति मिर्धा ने कहा कि लोकसभा चुनाव को लेकर जब कांग्रेस की टिकट तय नहीं हुई थी, उस वक्त काफी लोग कह रहे थे।

ज्योति को टिकट नहीं मिलेगा, अगर ज्योति कांग्रेस से टिकट लेकर आती है तो हम रिकॉर्ड मतों से विजयी बनाएंगे। इस बात पर ज्योति मिर्धा ने कहा कि अब आपकी बेटी टिकट लेकर आ गई है।

अब सब साथ मिलकर नागौर में सीट जिताएंगे। ज्योति मिर्धा ने कहा कि टिकट मांगना सब का अधिकार है, मगर जब आलाकमान टिकट जिनको सौपते हैं।

बाद में सभी साथ मिलकर चुनाव में अपना वादा निभाते है। ऐसा ही है नागौर में की अब सभी एक मंच पार्टी के साथ खड़े है।