Nagaur/jaipur

नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल ने अशोक गहलोत सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि जब तक बंजारा और गाड़िया लोहार जैसे खानाबदोश लोगों के लिए रहने हेतु मकानों के पट्टे जारी नहीं होंगे, तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

इसके साथ ही हनुमान बेनीवाल ने ऐलान किया है कि शनिवार को नागौर में नेशनल हाईवे और रेलवे पटरी जाम की जाएगी, जिससे राजस्थान सरकार और प्रशासन की बंद आंखें खुल सके।

उल्लेखनीय है कि आज ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हनुमान बेनीवाल को लेकर पत्रकारों से बात करती है कहा था कि पहले बेनीवाल विधायक थे और आंदोलन करते रहते थे, लेकिन अब वह एक सांसद हैं और पार्लियामेंट की शपथ ले चुके हैं।

ऐसे में उनको लोगों को भड़काने की वजह प्रदेश में शांति व्यवस्था कायम करने के लिए काम करना चाहिए। इसके साथ ही अशोक गहलोत ने कहा कि हनुमान बेनीवाल राजनीतिक लाभ के लिए लोगों को भड़का कर उकसा रहे हैं।

इसके बाद हनुमान बेनीवाल ने नागौर में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि अशोक गहलोत को यह पता नहीं है कि उनको जनता ने चुना है और वे जनप्रतिनिधि है।

वह जनता की आवाज उठाते हैं ना कि किसी को बताते हैं। उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत में दम है तो वह खुद भी जनप्रतिनिधि है और बंजारा समेत समस्त खानाबदोश समुदायों के लिए रहने हेतु जमीन आवंटित करें।

हनुमान बेनीवाल के द्वारा चेतावनी दिए जाने के बाद नागौर का पुलिस प्रशासन और जिला कलेक्ट्रेट सतर्क हो गए हैं। यह भी उल्लेखनीय है कि हनुमान बेनीवाल के आंदोलन में हजारों की संख्या में लोग एकत्रित होते हैं।

बताया जा रहा है कि नेशनल हाईवे और रेलवे पटरियों की सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दे दिए गए हैं। सरकार ने पुलिस प्रशासन को भी अतिरिक्त सुरक्षा बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

दूसरी तरफ हनुमान बेनीवाल ने धरना स्थल पर ही इस बात का भी ऐलान कर दिया कि जब तक इन समुदायों को रहने के लिए घर बनाने हेतु पट्टे आवंटित नहीं किए जाएंगे तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा।

इससे पहले हनुमान बेनीवाल ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने 2013 से लेकर 2018 तक के वसुंधरा राजे सरकार के कार्यकाल के दौरान सरकार की गलत नीतियों का विरोध किया।

साथ ही यह भी कहा कि उनका विरोध वसुंधरा राजे से था ना कि भाजपा से। इसीलिए उन्होंने लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी को देश हित में फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए बीजेपी के साथ गठबंधन किया था।

हनुमान बेनीवाल ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि जोधपुर में लोकसभा चुनाव हारने के कारण अशोक गहलोत उनसे बदला लेने के लिए बंजारा बस्ती को उजाड़ने का काम कर रहे हैं, जो अनुचित है।