hanuman beniwal gajendra singh shekhawat
hanuman beniwal gajendra singh shekhawat

‘बेनीवाल गजेंद्र सिंह शेखावत रा कालजे री कोर है, म्हारे लिए तेजाजी महाराज है’

नागौर। लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार के लिए आज नागौर में हनुमान बेनीवाल के लिए रैली करने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ डीडवाना पहुंचे। यहां पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने हनुमान बेनीवाल के लिए कहा कि ‘हनुमान बेनीवाल गजेंद्र सिंह शेखावत रा कालजे री कोर है, म्हारे लिए तेजाजी महाराज है’

हनुमान बेनीवाल को अपना काफी पुराना मित्र और हर कदम पर सहयोग करने वाला बताते हुए जोधपुर से भाजपा प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत मारवाड़ी भाषा में भाषण देकर नागौर के डीडवाना में आयोजित जनसभा में खूब तालियां बटोरी।

उन्होंने कहा कि अभी ‘मैं प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने चुनाव लड़ रहा था, लेकिन जैसे ही हनुमान बेनीवाल ने जोधपुर में उनके पक्ष में प्रचार किया, तब से अशोक गहलोत का चेहरा उतर गया। ऐसा लगता है वैभव नहीं, खुद मुख्यमंत्री गहलोत चुनाव हार गए हैं।

अपने भाषण की शुरुआत में ही उपस्थित जनता से पूछा कि हिंदी में बोलूं या मारवाड़ी? इस पर जनता ने कहा मारवाड़ी में बोलिए। शेखावत ने बोलने के साथ ही कहा कि वह कोई विकास की बात नहीं करेंगे, बल्कि केवल इतना कहना चाहते हैं कि मोदीजी ने पूरी दुनिया में देश का मान बढ़ाया है, इसलिए यह चुनाव देश के मान सम्मान का चुनाव है।

बोलने से पहले शेखावत ने तेजाजी महाराज, मीराबाई, जंबोजी, रामदेवजी महाराज के जयकारे बुलवाकर माहौल बनाया। उनके औज​स्वी भाषण में बार बार ‘हनुमान बेनीवाल को म्हारे कालजे री कोर’ बोलकर नागौर की जनता की नब्ज पकड़ने में कामयाब रहे।

इससे पहले बीकानेर से प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री अर्जनराम मेघवाल ने बताया कि भाई हनुमान बेनीवाल के साथ उनका तब से साथ है, जब वह राजस्थान विवि में अध्यक्ष हुआ करते थे, और वह खुद चूरू में जिला कलेक्टर थे।

मेघवाल ने नागौर की जनता को विश्वास दिलाया कि बेनीवाल की जुबान, मतलब उनकी जुबान होगी। शेखावत ने कहा कि अगर नागौर में बेनीवाल कमजोर होंगे तो उससे पहले गजेंद्र सिंह कमजोर होंगे।

इस मौके पर हनुमान बेनीवाल ने मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने और देश को विकास के पथ पर ले जाने की बात कहते हुए कहा कि उनका भाजपा के साथ जाने का मतलब मोदी को पीएम बनाना और देश को मजबूत करना है।

सबसे आखिर में योगी आदित्यनाथ ने भाषण देते हुए कहा कि नागौर की धरती पर पैदा हुए तेजाजी ने गायों की रक्षा के लिए अपनी जान न्यौछावर कर दी। योगी ने कहा कि जिस तरह से तेजाजी अपने वचन के पक्के थे, वैसे ही हनुमान बेनीवाल हैं।

यूपी सीएम ने कहा​ कि गायों की रक्षा के लिए तेजाजी ने अपने जान दी, लेकिन अपने वचन से पीछे नहीं हटे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालते ही यूपी में अवैध बूचड़खाने बंद कर दिए।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।