-मंत्री, कांग्रेस विधायक के खिलाफ मुकदमे में लगी एफआर
विधायक के खिलाफ था दुष्कर्म के प्रयास का आरोप, मंत्री पर था आर्म्स एक्ट का मुकदमा
16 विधायकों, तीन सांसदों के खिलाफ चल रही जांच

जयपुर
पिछले दस माह में सत्रह विधायकों और दो सांसदों के खिलाफ पुलिस ने अलग-अलग थानों में 15 एफआईआर दर्ज की, उनमें से उच्च शिक्षा राज्य मंत्री भंवर सिंह भाटी और विधायक राजकुमार शर्मा के खिलाफ दर्ज प्रकरणों में पुलिस ने मामला झूठा बताते हुए एफआर लगा दी हैं।

भाजपा सांसद हनुमान बेनीवाल, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, किरोड़ीलाल मीणा के खिलाफ पुलिस की जांच जारी है।

मंत्री सिंह और विधायक शर्मा के खिलाफ चुनाव के दौरान गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज किए गए थे। इनमें विधायक शर्मा के खिलाफ तो दुष्कर्म के प्रयास जैसे गंभीर मामलों में एफआईआर दर्ज की गई थी।

शर्मा के खिलाफ मामला दर्ज करवाने वाली महिला ने दो साल बाद एफआईआर दर्ज करवाई थी। वहीं भाटी के खिलाफ फायरिंग और धमकाने का आरोप था।

भाटी के खिलाफ अभी ऐसे ही एक अन्य प्रकरण में सीआईडी सीबी जांच कर रही है। इससे पहले भी पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने राजनेताओं के खिलाफ न्यायालय में चालान पेश होने के बाद भी 596 प्रकरण वापस लिए थे।

इसे लेकर कांग्रेस ने कई बार भाजपा को कटघरे में खड़ा किया था।
झुन्झुनूं सांसद के खिलाफ चालान पेश

चुनाव के दौरान भाटी जैसे ही धाराओं में दर्ज झुन्झुनूं सांसद नरेन्द्र कुमार के खिलाफ पुलिस ने तीन अप्रैल, 2019 को कोर्ट में चालान पेश कर दिया।

सांसद पर एक व्यक्ति का सरिए से सिर फोडऩे और फायरिंग करने को लेकर एफआईआर दर्ज की गई थी।

खेल राज्यमंत्री के खिलाफ जांच
खेल राज्यमंत्री अशोक चांदन के खिलाफ बूंदी जिले के नैनवां थाने में अधीशासी अभियंता की तरफ से मारपीट करने और एससी-एसटी एक्ट में मामला दर्ज करवाया गया था।

इस मामले की जांच सीआइडी सीबी कोटा कर रही है। प्रकरण फरवरी 2019 से संबंधित है।

तीन सांसदों के खिलाफ जांच जारी
सरकार बदलने के छह माह के अंदर ही पुलिस और प्रशासन की तरफ से दर्ज मामलों को लेकर भाजपा के तीन सांसदों के खिलाफ सीआईडी सीबी में जांच चल रही है।

इनमें राज्यसभा सांसद डॉ.किरोड़ीलाल मीणा, सासंद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के खिलाफ जयपुर जिला कलेक्टर की तरफ से अपने चैम्बर में अनाधिकृत तरीके से प्रेस कॉन्फ्रेंस करने और नारेबाजी करने का मामला दर्ज करवाया गया है।

सांसद बेनीवाल के खिलाफ पुलिस की तरफ से अलग-अलग थानों में दर्ज मामलों में पुलिस जांच चल रही है। इनमें रेल रोकने और राजकार्य में बाधा के मुकदमे शामिल है।

इनके खिलाफ भी जांच जारी
-भाजपा विधायक कालीचरण सराफ के खिलाफ बजाज नगर थाने में पुलिस की तरफ से दर्ज मामला।

-जहाजपुर से भाजपा विधायक गोपीचंद मीणा के खिलाफ बांदीकुई जीआरपी थाने की तरफ से दर्ज मामला।

-राजगढ़-लक्ष्मणगढ़ से कांग्रेस विधायक जौहरीलाल मीणा पर दुष्कर्म का मामला।

-अलवर शहर से भाजपा विधायक संजय शर्मा के खिलाफ पुलिस से बदतमीजी करने के मामले में।

-श्रीगंगानगर से निर्दलीय विधायक राजकुमार गौड़ के खिलाफ सोने की चेन लूटने और मारपीट का मामला।

-भाजपा विधायक अशोक लाहोटी और नरपत सिंह राजवी के खिलाफ जिला कलेक्टर की तरफ से बनीपार्क थाने में दर्ज मामला।

-सोजत सिटी से भाजपा विधायक शोभना चौहान के खिलाफ चुनाव में प्रलोभन देने के मामला ।

-सवाई माधोपुर कोतवाली थाने में बसेड़ी से कांग्रेस विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा पर मारपीट और धमकाने का मामला।