Nationaldunia

जयपुर।
रीट लेवल प्रथम की 26 हजार भर्ती हो चुके अभ्यर्थियों की नियुक्ति को कोर्ट से मुक्त करवाने के लिए राजस्थान सरकार जरुरी कदम उठाने जा रही है।

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव के नेतृत्व में आज सुबह 10 बजे हजारों की संख्या में उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के आवास पर एकीत्रित होकर उनका 21 किलोग्राम की माला पहनाकर स्वागत किया।

इस अवसर पर डीप्टी सीएम पायलट ने कहा कि बेरोजगारों की मांग के मुताबिक दो दिन बाद, यानी 9 जनवरी को राजस्थान हाई कोर्ट में इस मामले की सुनवाई के दौरान पैरवी के लिए सुप्रीम कोर्ट से वकील बुलाया जाएगा।

उन्होंने बेरोजगारों को संबोधित करते हुए बताया कि सरकार अपने वादे के अनुसार प्रदेश के युवाओं को रोजगार और नौकरी देने के वादे पर कायम है।

पायलट ने कहा है कि सभी चयनित 26 हजार रीट लेवल प्रथम के अभ्यर्थियों को जल्द से जल्द नियुक्ति मिले, इसको लेकर सरकार प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है।

गौरतलब है कि चुनाव से पहले कांग्रेस अध्यक्ष पायलट ने लिखित में आश्वासन दिया था कि सरकार बनते ही इनको नियुक्ति देने का काम किया जाएगा।

इस मौके पर उपेन यादव ने सुप्रीम कोर्ट से दिनेश द्विवेदी को बुलाने की मांग की है। उन्होंने सभी साथियों को सरकार का सहयोग करने की अपील की।