Gopal sharma bjp
Gopal sharma bjp

जयपुर।
जयपुर शहर की लोकसभा सीट से बीजेपी का टिकट मांग रहे वरिष्ठ पत्रकार गोपाल शर्मा अभी भी पीछे हटने का तैयार नहीं हैं। लंबे समय से संघर्षरत शर्मा ने एक बार फिर से अपनी शक्ति का अहसास करवाया।

शहर के स्टेच्यू सर्किल के निकट स्थित होटल हवेली में गोविंदोत्सव के अवसर पर छोटी काशी ने एक बार फिर इतिहास रच दिया।

जयपुर के कोने कोने से हजारों की संख्या में पहुंचे महिलाओं एवं पुरुषों ने गोविंदोत्सव में ढफ-चंग की मनमोहक उमंग और ब्रज के कलाकारों की ब्रज के रसियाओं के रंग के बीच ब्रज की फूलों की होली का गोविंदात्सव में जमकर लुत्फ उठाया।

इस अवसर पर तीन विभूतियों को राष्ट्ररक्षा सम्मान एवं चार विभूतियों को राज्य गौरव सम्मान से भी नवाजा गया। ऐसा लग रहा था कि यह गोविंदोत्वस नहीं, शक्ति प्रदर्शन का केंद्र हो।

हजारों लोगों की मौजूदगी में वरिष्ठ पत्रकार गोपाल शर्मा ने शक्ति प्रदर्शन में आए लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गोविंद की यह नगरी अनुपम है और जयपुर में मिले असीम स्नेह एवं जनता के प्यार को मैं कभी भुला नहीं सकूंगा।

कार्यक्रम में राज्य के वरिष्ठ पत्रकार गोपाल शर्मा ने एक तरह से शक्ति प्रदर्शन किया। गोविंदोत्सव के बहाने हुए शक्ति प्रदर्शन में जयपुर के कोने- कोने से आए हजारों पुरुषों एवं महिलाओं ने शहर के कोने कोने से पहुंचकर गोविंदोत्सव में शिरकत की।

उन्होंने शक्ति प्रदर्शन में किसी पार्टी पर निशाना नहीं साधा, लेकिन बिना कुछ कहे भी बहुत कुछ कह दिया। अभिभूत होकर गोपाल शर्मा ने कहा कि गोविंद की इस नगरी पर लाखों लोगों पर भगवान गोविंददेवजी का प्रत्यक्ष आशीर्वाद है।

भगवान गोविंददेवजी स्वयं इस नगर के द्वारपाल बनकर सबकी रक्षा करते हैं तो फिर मुझे किस बात की चिंता है। मेरे भी रखवाले गोविंददेवजी ही है।

उन्होंने भावुक होते हुए कहा कि जयपुर के हजारों लोगों ने आज उपस्थित होकर यह जता दिया है कि वे मुझे अपना समझते हैं और उनके असीम स्नेह एवं प्यार का मैं हमेशा ऋणी रहूंगा।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रहे राज्य के पूर्व राज्यपाल नवरंग लाल टीबरेवाल ने कहा गोपाल शर्मा का और मेरा तीन दशक पुराना नाता है। आज सात विशिष्ट व्यक्तियों को सम्मानित किया जा रहा है।

राष्ट्रभक्तों, शहीद परिवारों, स्वतंत्रता सेनानियों, राज्य स्तरीय विभूतियों को सम्मानित करने की गोपाल शर्मा की अनुकरणीय परंपरा है।

इस अवसर पर गोपाल शर्मा एवं टीबरेवाल ने जयपुर की तीन विभूतियों महंत अंजन गोस्वामी, शतायु धनप्रकाश त्यागी एवं संस्कृत के जाने माने विद्वान कलानाथ शास्त्री को राष्ट्रगौरव सम्मान से सम्मानित किया।

राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक बी. एल. सोनी, शकुन गु्रप के संरक्षक रूपचंद माहेश्वरी, आर्य संस्कृति के विद्वान सत्यव्रत सामवेदी एवं जाने माने एथलीट गोपाल सैनी को राजस्थान गौरव सम्मान से नवाजा गया।

गोविंदोत्सव का प्रमुख आकर्षण यह रहा कि ब्रज कलाकारों और ब्र्रज रसियाओं की होली गीत आज ब्रज में होली रे रसिया एवं अन्य मनमोहक नृत्यों परमंच के नीचे नजदीक आकर बड़ी संख्या में महिलाएं ब्रज के होली गीतों पर मंच के नीचे आकर नृत्य करने लगी।

मंच पर स्थित ब्रज कलाकारों के आग्रह पर गोपाल शर्मा ने भी उनके स्नेह से अभिभूत होकर मंच पर ब्रज कलाकारों पर फूलों की वर्षा की और कुछ मिनट नृत्य भी किया।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।