Jaipur

छात्रसंघ चुनाव की तैयारी कर रही है अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के करीब 5 छात्र नेताओं ने मंगलवार को राजस्थान विश्वविद्यालय में शक्ति प्रदर्शन किया।

अध्यक्ष और महासचिव के टिकट का जतन कर रहे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र नेताओं द्वारा किए गए शक्ति प्रदर्शन में एबीवीपी की आपसी फूट भी खुलकर सामने आ गई।

टिकट को लेकर खुद की दावेदारी और दूसरे को नीचा दिखाने के चक्कर में एबीवीपी के कार्यकर्ता विवि के मुख्य द्वार पर आपस में ही पिट गए।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के अमित कुमार बड़बड़वाल, शोर्य जैमन, अरुण शर्मा, रामकेश मीणा, नितिन शर्मा समेत 6 अध्यक्ष पद के दावेदार छात्र नेताओं ने अलग-अलग रैली निकाली।

एबीपी की ओर से प्रायोजित इस कार्यक्रम के लिए संगठन के सभी छात्रनेता अपना टिकट पक्का करने के लिए दम दिखाने का मौका नहीं छोड़ना चाहते थे, इसलिए बड़ी संख्या में बाहरी युवाओं को एकत्रित किया गया था।

सुबह 11 बजे सभी छात्र नेताओं ने अलग-अलग रैली बनाकर सबसे पहले राजस्थान विश्वविद्यालय से स्पोर्ट्स ग्राउंड पहुंचे, जहां पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से तिरंगा यात्रा का आयोजन किया गया था।

वहां पर छात्र नेताओं में आपस में तनातनी हुई, लेकिन वहां से निकलने के बाद राजस्थान विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर विद्यार्थी परिषद के ही 2 छात्र नेताओं के गुट आपस में भिड़ गए।

विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर अमित कुमार बड़बड़वाल और शौर्य जैमन के समर्थकों में लाठी-भाटा जंग हो गई, जिसमें कई छात्रों को चोटें आईं।

मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक शौर्य जैमन की तरफ से रैली की अगुवाई कर रहे विपिन शर्मा ने एबीवीपी के छात्रनेता और छात्रसंघ अध्यक्ष का चुनाव लड़ चुके संजय माचेड़ी को थप्पड़ जड़ दिया।

इस झगड़े और मारपीट में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रांत प्रभारी हुश्यार सिंह मीणा की भी पिटाई हो गई। मीणा को अमित बड़बड़वाल ने बचाया, जो शौर्य जैमन के समर्थकों में फंस गए थे।

एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने भी इस आपसी लड़ाई हुई, तब इस लड़ाई में कई छात्र नेताओं की जमकर धुनाई हुई है, जिसके वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।