किसान आंदोलन में कूदे बेनीवाल, खट्टर सरकार को चेतावनी के साथ मोदी से मिलकर रखेंगे बात

रोहतक। हरियाणा के पीपली में आंदोलन कर रैली निकाल रहे किसानों के ऊपर पुलिस के द्वारा लाठीचार्ज किए जाने के मामले में नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल के द्वारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की सरकार को चेतावनी दी गई है।

किसानों पर लाठीचार्ज किए जाने के मामले को लेकर खट्टर सरकार से कहा है कि इस तरह की कायराना हरकत किसानों के साथ नहीं की जानी चाहिए। इसके साथ ही बेनीवाल ने कहा है कि इस मामले को लेकर वह केंद्रीय कृषि मंत्री से बात करेंगे।

हनुमान बेनीवाल ने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि कृषि मंत्री के अलावा खुद गृह मंत्री अमित शाह और जरूरत पड़ने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ भी बात करके इस मुद्दे को सुलझाने का काम करेंगे।

उल्लेखनीय है कि हरियाणा में 3 सरकारी अध्यादेश के खिलाफ किसानों ने आंदोलन किया और पीपली अनाज मंडी में रैली निकाली जिसके दौरान पुलिस और किसान आमने-सामने हो गए और पुलिस के द्वारा लाठीचार्ज किया गया।

पुलिस के द्वारा किए गए लाठीचार्ज में कई किसानों के सिर पैर और पेट में चोटे आई है। इसके अलावा इस झड़प में पुलिस के भी कुछ जवानों के घायल होने की जानकारी मिली है

दरअसल, सरकारी अध्यादेश में कहा गया है कि अब किसानों को मंडी जाना जरूरी नहीं है, कारोबारी खुद किसान के पास आकर खरीदारी कर सकते हैं। इसके साथ ही आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत जरूरी स्टॉक सीमा को भी खत्म कर दिया गया है। कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग को बढ़ावा देने के लिए भी अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ें :  कुएं में बसा है पूरा महल, जहां 250 साल बाद खजाने के लिए आज भी होती है खुदाई

इन्हीं 3 सरकारी अध्यादेश ओं को लेकर हरियाणा में किसान आंदोलन कर रहे हैं। इस आंदोलन को कांग्रेस के नेताओं द्वारा समर्थन दिया जा रहा है और वामपंथी पार्टी के किसान संगठन भारतीय किसान यूनियन के द्वारा नेतृत्व किया जा रहा है।