पिंकी चौधरी की तरह भागकर शादी करने वाली लड़की की 10 साल पहले इसी लड़के से सगाई हुई थी

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति की तत्कालीन प्रधान पिंकी चौधरी के 20 अगस्त 2020 को अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ है कि जिले में एक और लड़की के द्वारा भाग कर शादी करने का प्रकरण सामने आया है।

मजेदार बात यह है कि लड़की ने अपने घर से भाग कर जिस लड़के के साथ शादी की है उसी लड़के के साथ घर वालों ने 10 साल पहले उसकी सगाई की थी, लेकिन दोनों पक्षों में अविश्वास होने के कारण सगाई टूट गई थी।

दरअसल जिस नवविवाहित जोड़े ने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है, उसी जोड़े की 10 साल पूर्व घर वालों ने सगाई कर दी थी, किंतु लड़की के घरवालों को लड़का ना पसंद था ऐसे में उसका विवाह दूसरी जगह करना चाहते थे।

लड़का पसंद नहीं होने के कारण लड़की के परिजन उसका विवाह दूसरे स्थान पर करने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन लड़की उसी लड़के से प्रेम करने लगी थी। ऐसे में वह उसी के साथ शादी करके घर बसाना चाहती थी।

एक ही जाति के होने के बावजूद दोनों के परिजन शादी नहीं करना चाहते थे, किंतु लड़का और लड़की ने घर से भागकर 31 अगस्त 2020 को शादी कर ली और 2 सितंबर को विवाह का पंजीकरण भी करवा लिया।

जिले के सहायक पुलिस अधीक्षक पुष्पेंद्र सिंह हाडा का कहना है कि शादीशुदा जोड़े के द्वारा पुलिस सुरक्षा की मांग की गई है। उन्होंने बताया कि दोनों बालिग हैं और विवाह के पंजीकरण के कागजात भी पुलिस के समक्ष पेश किए गए हैं। ऐसे में संबंधित एसएचओ को पुलिस मुख्यालय बुलाकर नव दंपति को सुरक्षा देने के लिए निर्देश दे दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें :  सर्किल इंचार्ज विष्णुदत्त विश्नोई की आत्महत्या मामले में नया मोड़, अफसरों के हाथ-पांव फूले

डिप्टी पुलिस अधीक्षक हाडा का कहना है कि लड़की और लड़के के घर वालों को पाबंद किया गया है। इसके साथ ही पुलिस के द्वारा समाज के लोगों को भी धमकियां देने के मामले को लेकर सख्ती बरतते हुए सावधान रहने के निर्देश दिए गए हैं।