38 C
Jaipur
गुरूवार, जुलाई 2, 2020

वीर सावरकर, पं. दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी से नफरत करते हैं अशोक गहलोत!

- Advertisement -
- Advertisement -

Jaipir news

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उनकी ही सरकार में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के अलावा देश के इतिहास में एक मात्र दो बार आजीवन कारावास की सजा सुनने वाले स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर से नफरत है।

इस बात को सिद्ध किया है खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राजस्थान की शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने। दोनों नेताओं ने समय-समय पर वीर सावरकर और आरएसएस के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली है, तो इसके साथ ही सत्ता में काबिज होने के बाद सबसे पहले स्कूलों से इन तीनों नेताओं की तस्वीरें हटाने का कार्य किया है।

दिसंबर 2018 में अशोक गहलोत की सरकार राजस्थान की ताबीज होने के बाद शिक्षा मंत्री बने गोविंद सिंह डोटासरा ने सबसे पहले स्कूली शिक्षा की किताबों में से वीर सावरकर का नाम हटाने का फैसला किया। जिसके ऊपर राजस्थान की राजनीति में बढ़ाओ बार आया, लेकिन सरकार की हठधर्मिता के आगे किसी की नहीं चली।

अभी 2 दिन पहले ही राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने स्कूलों की किताबों में से नाम हटाने और फोटो हटाने के बाद स्कूलों में लगी वीर सावरकर, पंडित दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी की तस्वीरें भी हटाने का आदेश दे दिया है।

इसको लेकर राजस्थान विधानसभा में भाजपा के द्वारा विरोध किया गया और साथ ही साथ राजस्थान के अशोक गहलोत सरकार को चेतावनी देते हुए कहा गया कि अगर महापुरुषों के साथ किसी भी तरह का भेदभाव किया जाएगा, तो भाजपा इसका जमकर विरोध करेगी और सरकार को चैन की नींद नहीं सोने देगी।

दूसरी तरफ आईबी के द्वारा राजस्थान, महाराष्ट्र और पंजाब में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यालय और पदाधिकारियों पर अलकायदा के द्वारा हमला किए जाने की चेतावनी देने के बाद भी राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में स्थित आरएसएस के कार्यालयों और पदाधिकारियों को सुरक्षा मुहैया नहीं करवाई है।

इसी तरह के तमाम ऐसे मामले हैं जो यह दर्शाते हैं कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केवल वीर सावरकर से नफरत करते हैं, बल्कि आरएसएस और उसके लोगों से भी बेहद वैमनस्य और हीरे की भावना रखते हैं।

इतना ही नहीं, अशोक गहलोत के साथ-साथ उनके मंत्रिमंडल में सदस्य और प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा भी अपने बयानों कार्य और तमाम तरह की गतिविधियों से साबित करते हैं कि उनको राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, वीर सावरकर, पंडित दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी से ईर्ष्या है।

सर्वविदित है कि राजस्थान ही नहीं बल्कि देश की राजनीति में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का बहुत बड़ा योगदान है। खासतौर से भारतीय जनता पार्टी को बनाने और उसके बाद इस दल को चरम तक पहुंचाने में आरएसएस की सबसे बड़ी भूमिका रही है।

देश की राजनीति में कांग्रेस का एकछत्र राज हुआ था। कोई भी राजनीतिक दल आज तक कांग्रेस को सत्ता से बेदखल नहीं कर पाया। लेकिन जब से भारतीय जनता पार्टी का गठन हुआ है और भाजपा ने चरम सीमा को छूआ है, तब से लेकर आज तक कांग्रेस पार्टी सत्ता से नहीं हो पाई है। शायद यही दर्द है जो अशोक गहलोत और गोविंद सिंह डोटासरा को नींद नहीं आने देता है।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एक तरफ जहां पर दुनिया का सबसे बड़ा सांस्कृतिक संगठन है, तो दूसरी तरफ आरएसएस में से ही निकली राजनीतिक पार्टी भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बन चुकी है।

- Advertisement -
वीर सावरकर, पं. दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी से नफरत करते हैं अशोक गहलोत! 3
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा, विदेशी तबलीगियों पर आपराधिक मामलों तक उन्हें उनके देश भेजने का सवाल नहीं

नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)। केंद्र ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को सूचित किया कि गृह सचिव ने सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों...
- Advertisement -

उमा भारती बाबरी मामले में सीबीआई कोर्ट में पेश हुईं

लखनऊ, 2 जुलाई (आईएएनएस)। पूर्व केंद्रीय मंत्री व भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती गुरुवार को बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में अपना बयान दर्ज...

देश से बाहर जा सकता है आईपीएल-13, यूएई और श्रीलंका रेस में

नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का 13वां संस्करण भारत से बाहर आयोजित किया जा सकता है और इसकी मेजबानी की...

सीडब्लयूआई के अध्यक्ष ने कहा, सिमंस की नौकरी सुरक्षित

लंदन, 2 जुलाई (आईएएनएस)। क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यूआई) के अध्यक्ष रिकी स्केरिट ने टीम के मुख्य कोच फिल सिमंस को हटाने की मांग के बीच...

Related news

डॉक्टर के प्लॉट पर जज साहब का ‘अन्याय’ सुर्खियों में, मामला पहुंचा मुख्यमंत्री आवास

जयपुर। न्याय के देवता के रूप में कहलाए जाने वाले कोर्ट के एक जज का इंसानों को जीवनदान...

खुशखबरी: राजस्थान सरकार एमएसपी पर फिर करेगी चना खरीद, यहां पढ़ें कब से?

जयपुर राजस्थान के अन्नदाता के लिए खुशखबरी है। राजस्थान सरकार केंद्र सरकार के कोटे से एजेंसी के रूप में...

रोटरी क्लब लगाएगा डेढ़ लाख पौधे, भाजपा अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां ने लगाया पहला पौधा पौधा

जयपुर रोटरी क्लब के द्वारा प्रदेश भर में 150000 पौधारोपण करने के संकल्प का शुभारंभ भाजपा के अध्यक्ष डॉ...

अशोक गहलोत क्या डर है कि अब दिल्ली गए नेताओं पर गुप्तचर नजर रखेंगे

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने ट्वीट करके एक बार फिर से राजस्थान...
- Advertisement -