file photo (nationaldunia)

जयपुर।

राज्य में सरकार बदलने के साथ ही यूरिया खाद की किल्लत हो गई है। सबसे ज्यादा कमी हाडौती में हुई है, जहां बीते चार दिन में यूरिया के कारण किसान दो बार पुलिस से पिट चुके हैं।

यहां पर राज्य सरकार के सहकारिता विभाग द्वारा 2.50 लाख टन यूरिया सप्लाई करने का लक्ष्या था, लेकिन अभी तक केवल 1.39 लाख टन यूरिया ही पहुंच पाया है।

हालात यह हैं कि किसानों को चार से 7 घंटे तक कतारों में खड़े रहने के बाद बड़ी मुश्किल से चार की जगह एक कट्टा यूरिया खाद मिल पा रहा है। इसकी कमी के कारण किसानों की खड़ी फसलें खराब होने की स्थिति में पहुंच चुकी हैं।

जानकारी में आया है कि बारां, बांसवाड़ा, कोटा, दौसा और बूंदी में यूरिया की कमी के कारण किसानों की हालत खराब हो रही है। इधर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश के बाद सहकारिता विभाग के अफसरों ने मोर्चा संभाल लिया है।

बारां के पुलिस अधिक्षक परमार सिंह ने कहा है कि किसानों को खाद की लाइनों में नियंत्रित रखकर खाद वितरण का काम किया जा रहा है।

उनके अनुसार किसी भी किसान को परेशान नहीं किया जा रहा है, केवल व्यवस्था बनाने के लिए समझाइश की जाती है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।