PUBG की जगह आ रहा है अक्षय कुमार का FAUG, अक्टूबर में होगा लॉन्च

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा चीन के PUBG समेत 118 मोबाइल एप्लीकेशन को बैन करने के दूसरे ही दिन बॉलीवुड के अभिनेता अक्षय कुमार ने ऐलान किया है कि PUBG की जगह वो FAU-G गेम अक्टूबर में लांच करेंगे।

अक्षय कुमार ने इसका पहला पोस्टर रिलीज किया। पोस्टर रिलीज होने के साथ ही अक्षय कुमार के इस गेम को लेकर वामपंथी सोशल मीडिया एक्टिविस्ट के द्वारा इसके खिलाफ ट्रेंडिंग भी शुरू कर दी गई।

देश में व्याप्त वामपंथी एक्टिविस्टस के द्वारा कहा गया है कि अक्षय कुमार का यह नया मोबाइल गेम एक विदेशी गेम से कॉपी किया गया है। अक्षय कुमार के गेम वाली पोस्ट के साथ किसी अन्य गेम का पोस्टर भी चिपका कर वायरल किया जा रहा है।

अक्षय कुमार ने ऐलान किया है कि भारत में चीन के तमाम मोबाइल के एप्स बहन की जा रहे हैं। ऐसे में भारत के युवाओं के लिए बड़े पैमाने पर मोबाइल गेम्स की आवश्यकता है और इसके लिए उन्होंने काम करना शुरू कर दिया है।

बताया जा रहा है कि अक्षय कुमार ने एक बड़ी टेक्निकल टीम बनाकर उसके द्वारा इस गेम को प्रारूप दिया जा रहा है। इस मोबाइल गेम पर करीब 10 करोड रुपए का खर्चा आने की उम्मीद जताई गई है।

अक्षय कुमार को एक फाइटर खिलाड़ी के रूप में जाना जाता है। इसलिए उन्होंने अपना नया खेल भी सैनिकों पर आधारित करके बनाया है, जिसको अभी तक सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर रिस्पांस मिल रहा है।

गौरतलब है कि पब्जी दुनिया का सबसे ज्यादा खेले जाने वाला गेम बन गया था। जिसके द्वारा अकेले भारत से ही प्रतिदिन करोड़ों रुपए चीन को प्राप्त हो रहे थे।

यह भी पढ़ें :  यह है दरिंदा, जिसने 37 सैनिकों की जान ली

आत्मनिर्भर भारत के तहत भारत सरकार भारत में मोबाइल गेम्स के अलावा डिजिटल प्लेटफॉर्म, मोबाइल एप्लीकेशंस और अन्य सभी तरह के डिजिटल क्रिएटिविटीज को बढ़ावा देने के लिए इनाम भी दे रही है।

अब तक पूरी दुनिया समेत भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल एप्लीकेशंस चीन के द्वारा बनाई जाती रही है। भारत से प्रतिवर्ष इन मोबाइल एप्लीकेशंस के माध्यम से चीन जहां अरबों रुपए का कारोबार करता है तो दूसरी तरफ भारत की खुफिया जानकारियां भी चुरा रहा है।

जून से लेकर अब तक तीन अलग-अलग समय भारत सरकार 225 से ज्यादा चीन की मोबाइल एप्लीकेशंस को बहन कर चुकी है, जिसके चलते चीन को प्रति वर्ष से अरबों रुपए का नुकसान होने की संभावना है।