nationaldunia

-नि:शुल्क दवा योजना को लेकर एनएचएम के निदेशक डॉ. समित शर्मा फुल एक्शन में

जयपुर।

राजस्थान में सरकार बदलने के साथ ही योजनाओं की प्राथमिकता भी बदल गई हैं। सबसे पहले चिकित्सा महकमें में एक्शन सामने आया है।

साल 2011 में नि:शुल्क दवा योजना लेकर आए तत्कालीन एनएचएम निदेशक डॉ. समित शर्मा को सरकार ने पांच साल बाद फिर वही जिम्मेदारी सौंपी है। पद पर ज्वाइन करने दूसरे ही दिन डॉ. शर्मा ने फुल एक्शन दिखा दिया है।

डॉ. शर्मा की अगुवाई में आज प्रदेशभर में 400 चिकित्सा अधिकारियों ने सभी जिलों, तहसीलों और कस्बों में खुले हुए दवा वितरण केंद्रों का मुवायना किया।

इस दौरान सुबह 8.30 बजे खुद एनएचएम के निदेशक डॉ. समित शर्मा ने गणगौरी अस्पताल और आमेर की सीएचसी पर दौरा कर सभी दवा काउंटरों की समस्याओं को सुना, समाधान का आश्वासन दिया और कर्मचारियों को प्रोत्साहित किया।

इस दौरान उन्होंने काउंटर पर काम करने वाले कर्मचारियों को कोताही बरतने पर चेतावनी दी गई, उनकी समस्याएं होने पर मदद करने और प्रोत्साहित करने का काम किया।

डॉ. शर्मा ने बताया कि नि:शुल्क दवा योजना में पहले चरण में पूरी 600 दवाएं उपलब्ध करवाने, जांचों को सुनिश्चित करने के लिए काम किया जाएगा। उसके बाद अगले चरण में जनता से मिलने वाले सुझावों के आधार पर उनको अमल में लाया जाएगा।

उन्होंने जनता से सोशल मीडिया के माध्यम से नि: शुल्क दवा एवं जांच योजना में सुधार के लिए जरूरी सुझाव देने को कहा है। साथ ही मरीजों के जरूरी समाधान के लिए भी काम करने की तरफ कदम बढ़ा दिया है।