चंडीगढ़।

फार्मेसी आउटलेट पर छापा क्या मारा ड्रग माफिया ने ड्रग इंस्पेक्टर को दिन दहाड़े गोलियों से भून डाला। मामला पंजाब का है, यहां पर ड्रग इंस्पेक्टर डॉ. नेहा सूरी, जो पंजाब में ड्रग इंस्पेक्टर के पोस्ट पर तैनात थीं।

जानकारी के मुताबिक कुछ ही महीने पहले इन्होंने कुछ फार्मेसी आउटलेट्स पर छापा मारा था और प्रतिबंधित नशीली दवाओं की बिक्री के लिए उनके लाइसेंस रद्द कर दिए थे।

कल, यानी शुक्रवार को एक ड्रग पेडलर ने मोहाली में इनके कार्यालय में आकर दिनदहाड़े इन्हें गोली मार दी। गोलियों के कारण ड्रग इंस्पेक्टर की मौके पर ही मौत हो गई।

बता दें पंजाब के लगभग 70-80% युवाओं को ड्रग्स पूरी तरह से बर्बाद कर चुकी है। यहां ड्रग्स से लड़ने वाली एक ईमानदार अधिकारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

बताया जा रहा है कि नेहा की उन जैसे लोगों की बहादुरी उतनी ही महत्वपूर्ण है, जितनी हमारे सशस्त्र बलों, सेना और पुलिस की। वरिष्ठ पत्रकार जयसिंघम राय बताते हैं कि ये लोग देश को अंदर से सुरक्षित करते हैं।

याद दिला दें कि पंजाब में ड्रग्स को और ड्रग माफिया को खत्म करने का वादा किया था, लेकिन डॉ नेहा सूरी की हत्या के बाद फिर से बहस शुरू हो गई है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।