university of rajasthan
university of rajasthan

जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय और चारों संघटक कॉलेजों में स्नातक प्रवेश के लिए 10 फीसदी छूट देने की मांग की गई है।

छात्रनेता अमित कुमार बड़बड़वाल ने आज कुलाधिपति कल्याण सिंह और कुलपति प्रो. आरके कोठारी को मांग पत्र देकर उनकी मांगे मानने की अपील की है।

चार सूत्री मांग पत्र में कहा गया है कि ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले विद्यार्थियों के पास सरकार स्कूलों में स्टाफ की कमी, संसाधनों की कमी, कोर्स पूरा नहीं होने, कौचिंग सुविधाओं का अभाव और खेती-बाड़ी में हाथ बंटाने के चलते कम अंक प्राप्त करने का हवाला दिया गया है।

बड़बड़वाल ने कहा कि विवि पहले भी ग्रामीण छात्रों को 5 फीसदी अधिक अंक देकर प्रवेश देता रहा है। उन्होंने कहा है कि उच्च शिक्षा की अलख ग्रामीण परिवेश में जगाने के लिए विवि 10 प्रतिशत वैटेज देकर प्रवेश दे।

ऐसा नहीं करने पर सोमवार को रैली, धरना और आमरण अनशन की चेतावनी दी है। गौरतलब है कि रविवार को ही विवि पहली कटआॅफ लिस्ट जारी कर रहा है।

बता दें कि तत्कालीन छात्रसंघ अध्यक्ष महेंद्र चौधरी की मांग पर विवि ने सभी कॉलेजों और विवि में एडमिशन में ग्रामीण छात्रों को 5 प्रतिशत का वैटेज देता था, बा​द में समयान्तर में बंद कर दिया गया था।

इसी तरह से सीबीएसई की अच्छा मार्किंग और आरबीएसई की टफ मार्किंग होने के कारण विवि परसेंटाइल में आरबीएसई के छात्रों को वरियता देता है।