29 C
Jaipur
शनिवार, जुलाई 4, 2020

राजस्थान: आईएएस-आईपीएस और जजों ने कब्जा रखी थी 1200 बीघा भूमि, कोर्ट के आदेश पर वन विभाग ने खाली कराई

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर।
कहते हैं ‘जब बाड़ ही खेत को खाने लगे तो फिर बचाने वाला कौन आएगा?’ यह कहावत राजस्थान के अधिकारियों पर सटीक बैठ रही है। राज्य के जिम्मेदार अधिकारियों और जजों के पदों पर बैठे जिम्मेदारों के द्वारा 1200 बीघा जमीन कब्जाई हुई थी, जिसको आज वन विभाग ने खाली करा ली है।

राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश के बाद आज नाहरगढ जंगल से अवैध अतिक्रमण को ध्वस्त किया गया है। वन विभाग की बेसकीमती भूमि पर हो रहे अतिक्रमण को लेकर हाईकोर्ट ने वन विभाग को फटकार लगाते हुए अवैध अतिक्रमण को जल्द से जल्द हटाने के आदेश दिए थे।

जिसके बाद आज वन विभाग की टीम नें विश्वकर्मा इलाके में स्थित आकेड़ा डूंगर गांव और उसके आस-पास में करीब 1200 बीधा वन विभाग भूमि को अतिक्रमण हटाकर मुक्त किया गया है।

राजस्थान: आईएएस-आईपीएस और जजों ने कब्जा रखी थी 1200 बीघा भूमि, कोर्ट के आदेश पर वन विभाग ने खाली कराई 1आपको बता दें कि करीब 1200 बीधा जमीन पर अवैध अतिक्रमण कर फार्महाऊस बनाए गए थे। जानकारों का कहना है कि जमीन अतिक्रमण से मुक्त करवाने के लिए एक कार्यकर्ता को कोर्ट की शरण में जाना पड़ा।

बाद में कोर्ट के आदेश को भी अधिकारियों और सरकार ने धत्ता बता दिया था, लेकिन अवमानना को नोटिस जारी होने के बाद आज उच्च स्तरीय आदेश जारी कर वन विभाग और पुलिस की संयुक्त टीम ने आज इस अतिक्रमण को हटाया है।

इस अतिक्रमण को हटाने के लिए करीब 6 से ज्यादा स्ट्रेक्चर्स को बुल्डोजर की मदद ली गई है। उप वन संरक्षक सुदर्शन शर्मा के नेतृत्व वन विभाग और हरमाड़ा थाना पुलिस की टीम ने कार्यवाही को अंजाम दिया है।

यह भी बताया जा रहा है कि राजस्थान हाईकोर्ट में ही एक सीटिंग जज के अलावा कई आएएस और आईपीएस अधिकारियों ने इस जमीन पर लंबे समय से अतिक्रमण कर अपने—अपने फार्म हाउस बना लिये थे। जिसको लेकर मामला हाई कोर्ट की मुख्य बैंच के पास चला गया था।

- Advertisement -
राजस्थान: आईएएस-आईपीएस और जजों ने कब्जा रखी थी 1200 बीघा भूमि, कोर्ट के आदेश पर वन विभाग ने खाली कराई 4
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

आज चुनाव में ट्रम्प की हार तय, अपने प्रतिद्वंद्वी बाइडन के सामने 10% वोटों से पीछे

नई दिल्ली। अमेरिका से आ रही खबरें स्पष्ट रूप से संकेत देती है कि आगामी नवंबर माह में होने...
- Advertisement -

भारत बौद्ध स्थलों से संपर्क पर ध्यान केंद्रित करना चाहता है: मोदी

नई दिल्ली, 4 जुलाई (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि भारत देश अब बौद्ध स्थलों से संपर्क पर अपना ध्यान केंद्रित करना...

रेलवे निजीकरण के विरोध में युवा कांग्रेस ने कमीज उतारकर प्रदर्शन किया

नई दिल्ली, 3 जुलाई (आईएएनएस)। कांग्रेस की युवा इकाई ने चुनिंदा रेल मार्गो पर ट्रेन चलाने के लिए निजी इकाइयों को अनुमति दिए जाने...

भारत-चीन के बीच युद्ध तय है?

नई दिल्ली भारत और चीन के बीच लद्दाख में तनाव चरम पर है। दोनों देशों के द्वारा एक दूसरे...

Related news

3 माह से वेतन नहीं, सैंकड़ों कर्मचारियों की कोरोनाकाल में भूखे मरने की नौबत आई

-वेतन नहीं मिला तो कर्मचारी पहुंचे न्यायालय की शरणजयपुर। कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी काम कर रहे...

2 साल 2 माह के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता को राजस्थान सरकार ने आधी रात क्यों हटाया?

जयपुर राजस्थान सरकार ने गुरुवार आधी रात राज्य की ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के...

मोदी चीन के फ्रंट पर, इधर डॉ. पूनियां कोरोना वॉरियर के फ्रंट पर पहुंचे

जयपुर ऐसा लग रहा है जैसे 24 में 18 घन्टे काम कर दुनिया को चौंकाने वाले नरेंद्र मोदी की...

वसुंधरा से दूरियां, डॉ. सतीश पूनियां से नजदीकियां, आखिर क्या मंत्र है राठौड़ का?

जयपुर।राजस्थान विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष और पिछली वसुंधरा राजे सरकार में पंचायती राज मंत्री रहे चूरू के विधायक राजेंद्र सिंह राठौड़...
- Advertisement -