bjp congress flag
bjp congress flag

-अधिकांश सीटों पर तीन-तीन नाम, चार सीटों पर सिंगल नाम की संभावना

जयपुर। लोकसभा चुनाव का ऐलान हो चुका है। सात चरणों में होने वाले आम चुनाव के दो चरण राजस्थान की 25 संसदीय सीटों को कवर करेंगे। चुनाव की रणभेरी बजने के साथ ही दलों ने तैयारियां तेज कर दी है। भाजपा भी राज्य की सभी 25 सीटों से उम्मीदवारों का पैनल तैयार कर इसी सप्ताह आलाकमान को सौंप देगा।

इधर, कांग्रेस पार्टी में आज स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक के बाद शाम तक 12 लोकसभा सीटों पर सिंगल नाम तय हो जाएंगे। पार्टी की तरफ से सबसे कम विवादित सीटों पर नामों को लेकर फाइनल काम किया जा रहा है।

आपको बता दें कि राजस्थान में लोकसभा चुनाव प्रथम चरण में 13 लोकसभा क्षेत्र टोंक-सवाईमाधोपुर, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जालौर, उदयपुर, बासंवाड़ा, चितौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, कोटा और झालावाड़-बारां सीटों के लिए 29 अप्रेल को मतदान होगा।

दूसरे चरण में 12 लोकसभा क्षेत्रों श्रीगंगानर, बीकानेर, चूरू, झुंझूनूं, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा और नागौर के लिए 6 मई को मतदान होगा। भाजपा की ओर से चुनाव प्रभारी प्रकाश जावडेकर ने पूरी जिम्मेदारी संभाल रखी है। इसके साथ ही प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी और संगठन मंत्री चंद्रशेखर के पास जिम्मा है।

एक तिहाई नाम कटने की संभावना

भाजपा सूत्रों के अनुसार वर्तमान में पार्टी के 23 सांसद हैं। अजमेर और अलवर लोकसभा सीट पर जीतें सांवरलाल जाट और महंत चांदनाथ का निधन होने के बाद यहां पर हुए उपचुनाव में बीजेपी हार गई थी।

पार्टी ने 2014 में जिनको टिकट दिया, वो सभी जीतकर लोकसभा पहुंचे थे, लेकिन अब समीकरण बदल गए हैं। कई सांसदों के खिलाफ बनी एंटी इनकंबेंसी के चलते पार्टी करीब एक तिहाई सांसदों के टिकट काट रही है।

इन सीटों पर सिंगल नाम

जानकारी के अनुसार पार्टी की ओर से जयपुर ग्रामीण, झालावाड़, चूरू से केवल एक नाम ही पैनल में भेजने पर विचार कर रही है। बाकी सीटों पर कम से कम दो और अधिकतम तीन दावेदारों के नाम टिकट के लिए आलाकमान को भेजे जाएंगे। अगले सप्ताह तक टिकट घोषित होने की संभावना है।

बाड़मेर सीट बनी मुसीबत
कांग्रेस के लिए सबसे ज्यादा मुसीबत वाली सीट बाड़मेर—जैसलमेर बनी है। यहां से पूर्व सांसद मानवेंद्र सिंह के अलावा कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी के अलावा दो अन्य नाम भी प्रबल दावेदार हैं। आज ही हरीश चौधरी ने टिकट के लिए राहुल गांधी से मुलाकात की है।

विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए कद्दावर नेता के बेटे मानवेंद्र सिंह को यहां से टिकट दिए जाने की चर्चा है, लेकिन उनके रास्ते में बायतू से विधायक बने हरीश चौधरी की दावेदारी सामने आ गई है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।