किसान कर्जमाफी, पत्रकारों को सुरक्षा, छात्राओं की पढ़ाई फ्री

24
nationaldunia
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

-केवल 10 दिन में कर्जमाफी का वादा, बेरोजागारों को सरकारी नौकरी का नहीं किया कोई वादा।

जयपुर।

राजस्थान में विधानसभा चुनाव से एक सप्ताह पहले कांग्रेस पार्टी ने ‘जन घोषणा पत्र’ के नाम से अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया।

कांग्रेस ने इस घोषणा पत्र में किसान कर्जमाफी, बेटियों की शिक्षा फ्री, बुजुर्ग किसानों को पेंशन, पत्रकार सुरक्षा एक्ट, बेरोजागारों को हर माह 3500 रुपए बेरोजागारी भत्ता और एक्जाम देने के लिए जाने वाले सभी बेरोजगारों को फ्रीस परिवहन सुविधा दी जाएगी।

भाजपा की तरफ से हर साल 30 हजार बेरोजागारों को सरकारी नौकरी के मुकाबले कांग्रेस ने कोई वादा नहीं किया है। बीजेपी ने जहां बेरोजगारी भत्ता 5000 रुपए देने का वादा किया है, वहीं कांग्रेस पार्टी 35 सौ रुपए देने का वादा किया है।

सिंचाई को लेकर भी कांग्रेस ने कोई वादा नहीं किया है। इसी तरह से भाजपा द्वारा पांच साल में 50 लाख को रोजगार देने का वादा किया गया है, लेकिन कांग्रेस ने इसपर कुछ भी नहीं कहा है।

पत्रकारों को सुरक्षा की बात केवल कांग्रेस ने कही है। साथ ही स्वास्थ्य को लेकर कोई वादा कांग्रेस ने नहीं किए हैं।

कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट, संगठन महामंत्री अशोक गहलोत, घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष हरीश चौधरी और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांड़े पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया।

इस अवसर पर अशोक गहलोत ने जहां पहली केबिनेट में ही घोषणा पत्र के सभी बिंदुओं को शामिल किया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष पायलट ने कहा है कि इस घोषणा पत्र को टाइम बाउंड तरीके पूरा किया जाएगा।

इस मौके पर पूर्व विधानसभाध्यक्ष सुमित्रा सिंह ने फिर से कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली। उनको गहलोत, पांडे और पायलट ने दुपट्टा पहनाकर कांग्रेस में शामिल किया।

पायलट ने कहा है कि प्रदेश के 2 लाख लोगों के आॅनलाइन सुझाव के आधार पर यह घोषणा पत्र तैयार किया गया है। उन्होंने भाजपा से वादे पूरे नहीं होने के कारण माफी मांगने की मांग की है।

यह हैं कांग्रेस के वादे-

-किसानों का कर्ज माफ होगा।
-बुजुर्ग किसानों को पेंशन दिया जाएगा।
-कृषि उपकरणों को जीएसटी से बाहर रखा जाएगा।
-पत्रकारों के लिए पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट लाया जाएगा।
-छात्राओं की सम्पूर्ण पढ़ाई फ्री होगी।
-एग्जाम देने जाने वाले बेरोजगारों की यात्रा फ्री होगी।
-बेरोजगारों को हर माह 3500 रुपए बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।
-असंगठित मजदूरों के लिए बोर्ड बनाया जाएगा।

बीजेपी के घोषणा पत्र में ये थे वादे-

-किसानों की आय दोगुना करने के लिए फसल की लागत का भाव डेढ़ गुणा करने के लिए एमएसपी के पैसे को खाते में डाला जाएगा।
-ग्रामीण स्टार्ट अप फंड बनेगा।
-सरकारी ऋण एक लाख करोड़ दिए जाएंगे।
-ऋण राहत आयोग की बैंच बनाएंगे और उसको क्रियाशील करेंगे।
-सिंचाई और पेयजल के लिए इर्स्टन राजस्थान कैनाल की योजना पूरी होगी।
-इससे दो लाख हेक्टेयर नई भूमि सिंचित होगी।
-6100 करोड़ की लागत से जवाई बांध के लिए काम किया जाएगा।
-सेना भर्ती शिविरों के लिए तीन माह पहले ही सरकारी प्रशिक्षण केंद्र खोलेंगे।
-शिक्षित 21 साल से अधिक के युवाओं को अधिकतम 5000 प्रति माह दिया जाएगा।
-हर साल 30 हजार सरकारी नौकरी देंगे और पांच साल में 50 लाख युवाओं को रोजगार दिया जाएगा।
-अरब सागर के पानी को सांचोर, जालौर जिले में लाकर इन लेंड पोर्ट बनाया जाएगा।
-250 अधिक आबादी के सभी गांव-ढ़ाणी को सड़कों से जोड़ा जाएगा।
-यूनिवर्सल हैल्थ के लिए काम किया जाएगा।
-सभी ग्राम पंचायतों में 108 एम्बुलेंस गाड़ी होगी।
-यूनिवर्सल बैसिक इनकम के लिए उच्च समिति बनेगी।
-राज्य में हेप्पीनेस इंडेक्स तैयार किया जाएगा।