harish meena gopichand meena

जयपुर।
कांग्रेस के विधायक ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर ही तीखा हमला किया है। देवली—उनियारा के कांग्रेस पार्टी के विधायक हरीश मीणा ने कहा है कि राज्य सरकार ने धोखा देकर उनका अनशन तुड़वा दिया है।

हरीश मीणा ने राज्य सरकार पर धोखाधड़ी के जरिए उनके अनशन को तुड़वाने और आंदोलन को खत्म करने का आरोप लगाया है।

हरीश मीणा ने कल शाम को ही अपने साथी विधायक गोपीचंद मीणा के साथ राज्य के खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश मीणा के हाथों ज्यूस पीकर अनशन समाप्त किया था।

आज हरीश मीणा ने कहा कि मृतक भजनलाल मीणा का पोस्टमोर्टम करने के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन टोंक के ही तीन डॉक्टरों का करना था, लेकिन राज्य सरकार ने जयपुर में इसका गठन किया है।

बता दें कि गत 29 तारीख को देवली—उनियारा में पुलिस के द्वारा पिटाई करने के कारण ट्रैक्टर चालक भजनलाल मीणा की मौत हो गई थी।

जिसको लेकर देवली—उनियारा विधायक हरीश मीणा और जहाजपुर से भाजपा विधायक गोपीचंद मीणा ने धरना और तीन दिन तक अनशन किया था।

कल अनशन समाप्त करने के वक्त कहा गया था कि मृतक के एक परिजन को नौकरी, सीआईडी—सीबी से जांच, सारे थाना स्टाफ को लाइन हाजिर करने समेत पांच मांगों पर सहमति बनी थी।