Congress condidats puspendra bhardwaj
Congress condidats puspendra bhardwajNationaldunia

जयपुर।
कांग्रेस के नेता और सांगानेर से विधानसभा का चुनाव लड़ चुके राजस्थान विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष पुष्पेंद्र भारद्वाज के द्वारा एक भूखण्ड़ के फर्जी दस्तावेज बनकर हड़पने के मामले में एसएफएल रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें उनको दोषी पाया गया है।

पुलिस विभाग के सूत्रों की मानें तो एसएफएल की रिपोर्ट में पुष्पेंद्र भारद्वाज को दोषी पाया गया है, लेकिन राजस्थान पुलिस बार बार जांच अधिकारी का तबादला कर मामले को दबाने में जुटी है।

बताया जा रहा है गृह विभाग द्वारा जारी किए गए परिपत्र को लेकर राजस्थान पुलिस गंभीरता नहीं दिखा रही है और आरोपी पुष्पेंद्र भारद्वाज को बचाने के लिए अनुसंधान अधिकारी का ट्रासंफर कर मामले को लटकाने में लगी है।

इस परिपत्र में एसएफएल रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा गया है कि परिवादी श्रीराम शर्मा ने पुत्र शिप्रसाद लाटा की ओर से दर्ज एफआईआर के अनुसार विद्याधर नगर के जैम्स कॉलोनी में एक 100 वर्गगज के भूखण्ड़ को हड़पने का काम किया गया है।

बताया गया है कि उक्त भूखण्ड़ के फर्जी दस्तावेज बनाकर पुष्पेंद्र भारद्वाज ने 9 मार्च 2014 से पहल ही अपने नाम करवा दिया, जबकि इसके आरोप में पुष्पेंद्र भारद्वाज के खिलाफ मुकदमा नंबर 306, जो कि 2014 मे दर्ज करवाया गया था ​में धारा 420, 476, 468, 471 और 120बी लगकर जांच की गई थी।

अब एसफएल की रिपोर्ट में इस मामले को सही माना गया है, लेकिन आरोप प्रमाणित माने जाने के बाद भी पुष्पेंद्र भारद्वाज के खिलाफ बार बार जांच अधिकारी को बदला जा रह है।

सहायक पुलिस आयुक्त नरेंद्र कमार शर्मा द्वारा अपर मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट को हाल ही में सौंपी अपनी रिपोर्ट में बताया है कि जो अपराध शाखा से पत्र मिला है, ​उसकी पत्रावली में विधि विज्ञान प्रयोगशाला जयपुर से प्राप्त परीक्षण रिपोर्ट में पूर्व से शामिल है, जिनका उल्लेख सीडी में नहीं है।

कहा गया है कि एसएफएल परीक्षण रिपोर्ट से स्पष्ट है कि पीएचईडी जयपुर में पुष्पेंद्र भारद्वाज द्वारा प्लॉट नं. 13बी, जैम्स कॉलोनी जयपुर में मय जल कनेक्शन के आवेदन पत्र के साथ सलंग्न करार पत्र पर आरोपी पुष्पेंद्र भारद्वाज के ही हस्ताक्षर हैं, जबकि आरोपी अपने हस्ताक्षर करने से मना कर रहा है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।