harish meena prabhu lal saini
harish meena prabhu lal saini

-एसपी जिला कलेक्टर पर मीडिया को कवरेज से रोकने का आरोप

जयपुर।
गत 29 अप्रैल को टोंक के उनियारा में फतेहगंज परासिया निवासी भजन लाल मीणा की मौत का मामला राज्य सरकार के लिए गले की हड्डी बनता जा रहा है।

यहां पर बीते तीन दिन से देवली-उनियारा से कांग्रेस विधायक हरीश मीणा और जहाजपुर से भाजपा विधायक गोपीचंद मीणा अनशन पर बैठे हैं।

परिजनों द्वारा उनियारा पुलिस पर हत्या का आरोप लगाकर नगर फोर्ट चिकित्सालय में 5 सूत्री मांगों को लेकर राजस्थान पुलिस के पूर्व प्रमुख एवं देवली-उनियारा विधायक हरीश चंद्र मीणा के नेतृत्व में धरने पर बैठ गए थे।

3 दिन में भी मांगे पूरी नहीं होने पर मजबूर होकर चौथे दिन शनिवार को विधायक हरीश चंद्र मीणा और जहाजपुर विधायक गोपीचंद मीणा ने सुबह 10 बजे आमरण अनशन शुरू कर दिया।

मृतक के पीड़ित परिवार की ओर से पांच सूत्रीय मांगों को लेकर प्रतिनिधि मंडल ने जिला कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक सहित जिला प्रशासन से वातार्लाप के दौरान मीडियाकर्मियों को कवरेज करते ही जिला कलेक्टर एवं एसपी ने कवरेज करने से रोका और अभद्र व्यवहार तक किया।

वातार्लाप का मीडिया कर्मियों को कवरेज करने से जिला कलेक्टर आर.सी. ढेनवाल एवं जिला पुलिस अधीक्षक चुनाराम जाट ने मना तक कर दिया।

अभी तक नहीं बनी बात

हालांकि, हरीश मीणा ने बताया कि उनकी मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और डीजीपी समेत सभी अधिकारियों से बात हो गई, लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकला है।