29 C
Jaipur
रविवार, सितम्बर 20, 2020

रिया चक्रवर्ती ने दावा किया, बयान देने के लिए किया गया मजबूर

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई, 9 सितम्बर (आईएएनएस)। अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने अपनी जमानत अर्जी में दावा किया है कि उन्हें हिरासत के दौरान बयान देने के लिए मजबूर किया गया।

नारकोटिक्स सेंट्रल ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा रिया की गिरफ्तारी के एक दिन बाद, यह पता चला है कि यहां की एक विशेष अदालत 10 सितंबर को अभिनेत्री और उनके भाई शोविक की जमानत याचिकाओं पर सुनवाई करेगी।

सुशांत सिंह राजपूत की प्रेमिका रहीं रिया को मंगलवार को एनसीबी ने गिरफ्तार किया था। उन्हें 14 जून को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय परिस्थितियों में हुई मौत के बाद हुई जांच के दौरान सामने आए ड्रग्स एंगल में नार्कोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है।

20-पेज की जमानत अर्जी में रिया ने कहा है, वह निर्दोष है और उसने कोई भी अपराध नहीं किया है। आवेदक को वर्तमान मामले में झूठा फंसाया गया है।

आवेदन में यह भी कहा गया है कि रिया से कोई भी ड्रग या साइकोट्रॉपिक पदार्थ जब्त नहीं किया गया है। इसके अलावा कम मात्रा में ड्रग्स से संबंधित मामले में जमानत मिलने के प्रावधान की बात भी कही गई है।

आवेदन में कहा गया है, वर्तमान में आवेदक के खिलाफ लगाए गए आरोपों में सबसे कम मात्रा में ड्रग्स खरीदने का मामला होगा, जो कि एक जमानती अपराध है। इसके साथ ही एप्लिकेशन में कहा गया है कि कम मात्रा में ड्रग्स खरीदने के मामले के अलावा अन्य कोई बड़ा मामला नहीं बनता है।

रिया चक्रवर्ती ने अपनी जमानत अर्जी में दावा किया है कि उन्हें हिरासत के दौरान आत्म-दोषारोपण बयान देने के लिए मजबूर किया गया।

इसमें कहा गया है कि आठ सितंबर, 2020 को उनके आवेदन में, आवेदक ने औपचारिक रूप से इस तरह के सभी भ्रामक बयानों को वापस ले लिया है।

आवेदन में कहा गया है, आवेदक को उत्तरदाताओं द्वारा बुलाया गया था और एनसीबी कार्यालय में छह, सात और आठ सितंबर 2020 को पूछताछ की गई थी। आवेदक की पूछताछ के दौरान किसी भी कानूनी सलाह तक कोई पहुंच नहीं थी, जब उससे न्यूनतम आठ घंटे तक पूछताछ की गई थी, जिसमें कई पुरुष अधिकारी थे और कोई भी महिला अधिकारी नहीं थी, जो वर्तमान आवेदक से कानून के अनुसार अनिवार्य रूप से पूछताछ कर सके।

दस्तावेज में रिया ने कहा है कि उसने हमेशा से ही इस मामले में सहयोग किया है। इसके साथ ही रिया ने कहा है कि अगर उसे न्यायिक हिरासत में रखा जाता है तो उसके जीवन के लिए गंभीर खतरा है।

इसके साथ ही कहा गया है कि आवेदक को पिछले कई महीनों के दौरान सैकड़ों मौत और दुष्कर्म की धमकियां मिल रही हैं।

आवेदन में आवेदक के मानसिक स्वास्थ्य, कल्याण और जमानत लेने के कारणों के रूप में चल रही कोरोनावायरस महामारी का भी हवाला दिया गया है।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
रिया चक्रवर्ती ने दावा किया, बयान देने के लिए किया गया मजबूर 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

चीन के सीमावर्ती अरुणाचल के गांव में सेना ने दी फोन कनेक्टिविटी

इटानगर, 19 सितंबर (आईएएनएस)। भारतीय सेना ने चीन के सीमावर्ती अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी कामेंग जिले के मागो-चूना के दूरदराज गांव के ग्रामीणों के...
- Advertisement -

आईपीएल-13 : चेन्नई ने मुंबई को 5 विकेट से हराया

अबू धाबी, 19 सितंबर (आईएएनएस)। चेन्नई सुपर किंग्स ने रविवार को शेख जायेद स्टेडियम में खेले गए आईपीएल-13 के पहले मैच में मुंबई इंडियंस...

बिहार को 14258 करोड़ रुपये के 9 राजमार्गो की सौगात देंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली, 19 सितंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए 21 सितंबर को बिहार में 9 राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। इन...

यूपी में साजिश के तहत बढ़ रहे लव जिहाद के मामले : मोहसिन रजा

लखनऊ, 19 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने प्रदेश में बढ़ते लव जिहाद के मामलों को लेकर बड़ा बयान...

Related news

पिंकी प्रधान आशिक की तीसरी पत्नी बनने से पहले एक साल लिव इन रिलेशनशिप में रही!

बाड़मेर। 'पिंकी प्रधान' उर्फ समदड़ी पंचायत समिति प्रधान पिंकी चौधरी अपने आशिक अशोक चौधरी की तीसरी पत्नी बनने से पहले एक साल...

पिंकी चौधरी भागने वाली लड़कियों की रोल मॉडल बनी, चार लड़कियों ने ली प्रेरणा और प्रेमियों के साथ भाग गईं

बाड़मेर/टोंक। पिछले महीने बाड़मेर के समदड़ी पंचायत समिति की प्रधान पिंकी चौधरी के घर से भागने और आपने प्रेमी अशोक चौधरी के...

बाड़मेर: लड़की भगा ले गया शिक्षक, मिलते ही घरवालों ने किया ऐसा हाल

बाड़मेर। राजस्थान के सीमावर्ती जिले बाड़मेर में एक स्कूल के अध्यापक पर जानलेवा हमले और नाक व दोनों कान काटने की घटना सामने...

किसानों को बहकाने और बरगलाने का काम कर रहे कांग्रेस-वामपंथी दल

-मोदी सरकार के तीनों ही विधेयक क्रांतिकारी हैं, किसान को मिलेगी तरक्की, मजबूती और ताकत। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने हमेशा किसानों,...
- Advertisement -