34 C
Jaipur
बुधवार, सितम्बर 23, 2020

ताज महल 1989 के कलाकारों ने प्रेम को किया परिभाषित

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई, 14 फरवरी (आईएएनएस)। आगामी नेटफ्लिक्स ऑरिजनल सीरीज ताज महल 1989 में युवा कलाकारों के समूह यानी पारस प्रियदर्शन, अंशुल चौहान और अनुद सिंह ढाका को नब्बे के दशक को जीने का मौक मिला है, जब प्रेम वास्तव में पल्लवित होता था न कि सोशल मीडिया के एडिटेड फोटो में। कलाकारों का कहना है कि आज कल के युवा वास्तविक दुनिया में दिल के रिश्ते को मजबूत करने की बजाय वर्चुअल दुनिया में पोस्ट करने को ज्यादा महत्व देते हैं।
ताज महल 1989 में दो अलग पीढ़ियों की तीन अलग-अलग प्रेम कहानियों को दिखाया गया है, जिन्हें आपस में जोड़ा गया है।

अंशुल से पूछे जाने पर की 90 के दशक की प्रेम कहानियों की तुलना में आज के युग की प्रेम कहानियों में क्या कमी है, इस पर उन्होंने आईएएनएस से कहा, मेरे हिसाब से, उस समय में किसी भी रिश्ते को बनाए रखने की ईच्छा काफी मायने रखती थी। उसे छोड़ने की बजाय उसे बनाए रखने का प्रयास काफी महत्वपूर्ण था। दरअसल, इसके लिए बहुत धैर्य की जरूरत है और मजबूत दिमाग की भी, जो आसानी से हार न माने।

वहीं सीरीज में युवा लड़के का किरदार निभा रहे पारस ने कहा, मेरे ख्याल से हर आइडिया की प्रमाणिकता, चाहे वो कविता हो, सिनेमा हो या अपने प्रेमी/प्रेमिका को प्रभावित करने का हो, उसमें सच्चाई होनी चाहिए। आज कल इन सारी चीजों का फार्मूला आ गया है और लोग उसी का पालन करते हैं। मेरा मानना है कि जोड़ियों को फोटोशूट कर सोशल मीडिया पर डालने से बेहतर उन्हें उस लम्हे को वास्तविकता में जीना चाहिए, ताकि वह ताउम्र याद रहे। सब कुछ इंस्टाग्राम थोड़ी न है यार।

ताज महल 1989 शुक्रवार से नेटफ्लिक्स पर प्रसारित होगा।

–आईएएनएस

( इस खबर को National Dunia टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है। )

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTubeपर फॉलो करें.

- Advertisement -
ताज महल 1989 के कलाकारों ने प्रेम को किया परिभाषित 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

खेतों से पराली हटाने का खर्चा अब सिर्फ 20 रुपये प्रति एकड़ : दिल्ली सरकार

नई दिल्ली, 23 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर भारत में सर्दियों के महीनों में कृषि अवशेष को जलाया जाना वायु प्रदूषण का एक प्रमुख कारण है।...
- Advertisement -

बिहार में कोरोना के मामले अब 1.73 लाख, अब तक 874 मौतें

पटना, 23 सितंबर (आईएएनएस)। बिहार में बुधवार को कोरोना के 1,598 नए मरीजों के सामने आने के साथ राज्य में कोविड-19 मरीजों की संख्या...

अगर हम नहीं रोकते, तो यूपीएससी जेहाद के पूरे एपिसोड को टेलीकास्ट किए जाते : एससी

नई दिल्ली, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। केंद्र ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट को सूचित किया कि प्रथमदृष्टया ऐसा लगता है कि सुदर्शन टीवी के कार्यक्रम...

बिहार : रालोसपा की नाराजगी आई सामने, पार्टी ने आनन-फानन में बुलाई बैठक

पटना, 23 सितंबर (आईएएनएस)। बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर जहां सभी राजनीतिक दल अब तैयारी में जुटे हैं, वहीं...

Related news

सचिन पायलट को फंसाने चले थे, अशोक गहलोत खुद आये लपेटे में

भोपाल/जयपुर। मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के पूर्व...

प्रधान पिंकी चौधरी की अशोक को छोड़ नए प्रेमी के साथ भागने की अफवाह?

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति क्षेत्र से प्रधान पिंकी चौधरी के 1 महीने पहले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने...

आईपीएल-13 : बेंगलोर ने हैदराबाद को 10 रनों से दी शिकस्त

दुबई, 21 सितंबर (आईएएनएस)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने सोमवार को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए आईपीएल-13 के मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को 10...

हनुमान बेनीवाल ने स्थानीय लोगों को नौकरी देने के लिए संसद में उठाई यह मांग

-आरोप-प्रत्यारोप से उपर उठकर मजदूर हितों पर हो सामूहिक चिंतन, 80 प्रतिशत स्थानीय लोगों को रोज़गार देने का बनाया जाए प्रावधान -...
- Advertisement -