Nationaldunia

जयपुर।

जैसी उम्मीद थी, वैसा ही अंतरिम बजट केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने आज पेश किया है। जनता के बीच अपनी 5 साल की उपलब्धियों को लेकर जाने से पहले मोदी सरकार ने मध्य भाग को टैक्स में छूट, किसानों को सीधे खाते में 6000 रुपये देने और मजदूर को ₹3000 पेंशन से खुश करने की पूरी कोशिश की।

अंतरिम बजट की घोषणाओं को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उत्साहित दिखे और पीयूष दिल की हर घोषणा बेंच थपथपाई। सत्ताधारी दल के सदस्यों का जोश ऐसा था कि टैक्स की सीमा में छूट की घोषणा पर उरी फ़िल्म का डायलॉग संसद में गूंज उठा और संसद में मोदी-मोदी के नारे लगे।

-सरकार ने आम आदमी को टैक्स में 5 लाख तक की छूट दी है। हर आदमी को व्यक्तिगत आय यह छूट दी है।

  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 2019 के बजट में 19000 करोड रुपए का आवंटन किया गया है।

  • अगले 5 साल में एक लाख डिजिटल गांव बनाने की योजना है।

  • देश के 98% से अधिक ग्रामीणों को स्वच्छता कवरेज के दायरे में लाया गया है। लगभग 5.4 लाख करोड गांव को खुले में शौच मुक्त बनाया गया है।

  • आयुष्मान भारत के तहत अब तक 10 लाख का इलाज हुआ है। लोगों को करीब 3000 करोड रुपए का लाभ मिला है।

-हरियाणा राज्य में देश का 22 वां एम्स शुरू किया जाएगा।

  • मनरेगा के लिए 2019-20 में 60 हज़ार करोड़ पर आवंटित किए गए हैं।

  • पिछले 5 साल में देश में $239 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आया है।

  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 15.56 करोड़ लाभार्थियों को 7.23 लाख करोड़ रुपए का कर्ज दिया गया है।

  • सरकारी उद्यमों की कुल खरीद में छोटे उद्यमों से आपूर्ति को बढ़ाकर 25% किया गया है। इसमें 3% आपूर्ति महिला उद्यमियों के उत्तम से करने का नियम बनाया गया है।

  • लघु एवं सीमांत किसानों को ₹6000 सालाना उनके खातों में डालने का प्रावधान किया गया है।

  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत इसके लिए भी 75 हज़ार करोड रुपए का फंड बनाया गया है।

  • असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए न्यूनतम ₹3000 पेंशन योजना का ऐलान किया गया है।

  • शैक्षणिक संस्थाओं में 25% अतिरिक्त सीटें उपलब्ध कराई गई है, ताकि 10% स्वर्ण आरक्षण को सहजता से लागू किया जा सके।

  • रक्षा बजट पहली बार 2019-2020 के लिए तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक हुआ है। वन रैंक वन पेंशन के तहत मौजूदा सरकार ने 35000 करोड़ का नोटिस किया हैं।

  • रेलवे की योजनाओं के लिए 2019-2020 में आम बजट से 64537 करोड पर आवंटित किया गया।

  • इस वर्ष के दोनों रेलवे का कुल पूंजीगत खर्च 158658 करोड रुपए होगा। मेघालय त्रिपुरा और मिजोरम पहली बार देश की रेलवे मानचित्र से जुड़ेंगे।

  • मनोरंजन को बढ़ावा देने के लिए भारतीय फिल्म निर्माताओं के लिए एकल खिड़की मंजूरी करने की व्यवस्था की है।

  • जीएसटी के तहत 5 करोड़ों का कारोबार करने वाले कारोबारियों को 3 महीने में एक बार ही रिटर्न भरना पड़ेगा।

  • गायों के अनुवांशिकी को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग बनाया जाएगा। राष्ट्रीय गोकुल योजना के लिए 2019-2020 के बजट में 750 करोड़ पर आवंटित किया गया है।

  • अप्रत्यक्ष कर संग्रह 2013 2014 के 6.38 लाख करोड़ और से बढ़कर इस साल 12 लाख करोड पर हुआ है।

  • सिक्किम हवाई अड्डा करने के बाद 100 से अधिक ऑपरेशन हवाई अड्डे हो गए हैं। घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 5 साल में दोगुनी हो गई है।

  • नोटबंदी के बाद एक करोड़ से अधिक लोगों ने पहली बार रिटर्न भर है है। नोटबंदी से यह आधार बढ़ा है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।