37 C
Jaipur
गुरूवार, सितम्बर 24, 2020

कोरोना महामारी के कारण जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत घटा

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। भारत में इस वर्ष जुलाई माह में औद्योगिक उत्पादन में भारी गिरावट दर्ज की गई है। आधिकारिक आंकड़ों में शुक्रवार को इसकी पुष्टि हुई है।
कोविड-19 महामारी की वजह से भारत के कारखानों के उत्पादन की क्षमता पर साल-दर-साल के आधार पर काफी विपरीत प्रभाव पड़ा है।

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) के हालिया अनुमानों के अनुसार, जुलाई माह में औद्योगिक उत्पादन में 10.4 प्रतिशत की गिरावट आई है।

आईआईपी आंकड़ों के अनुसार, जुलाई, 2019 में कारखाना उत्पादन 4.9 प्रतिशत बढ़ा था।

इसके अलावा सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के अनुमान दस्तावेज में कहा गया है कि वर्तमान सूचकांक रीडिंग की तुलना कोविड-19 महामारी से पहले के महीनों से नहीं की जानी चाहिए।

मंत्रालय ने कहा, महामारी के दौरान के आईआईपी आंकड़ों की महामारी से पूर्व के महीनों के आंकड़ों से तुलना करना उचित नहीं होगा।

मंत्रालय ने औद्योगिक उत्पादन में गिरावट की वजह बताते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए सरकार द्वारा किए गए उपायों तथा देशभर में लागू राष्ट्रव्यापी बंद की वजह से कई औद्योगिक क्षेत्र के प्रतिष्ठान मार्च अंत से परिचालन नहीं कर पाए हैं।

बयान में कहा गया है, इससे राष्ट्रव्यापी बंद के दौरान इन प्रतिष्ठानों का उत्पादन प्रभावित हुआ। बाद में अंकुशों को हटाए जाने के बाद औद्योगिक गतिविधियां फिर से शुरू हो रही हैं।

तदनुसार, जुलाई 2020 के लिए खनन, विनिर्माण और बिजली क्षेत्रों के लिए आईआईपी क्रमश: 87.2, 118.8 और 166.3 पर रही।

आईआईपी के हालिया आंकड़ों के अनुसार, जुलाई 2020 में विनिर्माण क्षेत्र का उत्पादन 11.1 प्रतिशत घटा है, जो कि जून महीने में 15.9 प्रतिशत था। इसके अलावा पिछले साल इसी महीने की अवधि को देखें तो इसमें 4.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।

समीक्षाधीन महीने में बिजली क्षेत्र का उत्पादन 2.5 प्रतिशत घट गया, जो कि जून में 10.2 प्रतिशत था। वहीं जुलाई, 2019 में इस क्षेत्र का उत्पादन 5.2 प्रतिशत बढ़ा था।

इसी तरह जुलाई में खनन क्षेत्र के उत्पादन में 13 प्रतिशत की गिरावट आई जबकि एक साल पहले इसी महीने में इस क्षेत्र का उत्पादन 4.9 प्रतिशत बढ़ा था।

इसके अलावा, साल-दर-साल आधार पर डेटा से पता चला है कि प्राथमिक वस्तुओं के विनिर्माण में (माइनस) 10.9 प्रतिशत की गिरावट आई है, वहीं पूंजीगत सामान में (माइनस) 22.8 प्रतिशत और मध्यवर्ती माल में (माइनस) 12.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।

जुलाई में टिकाऊ उपभोक्ता सामान के उत्पादन में भी 23.6 प्रतिशत की गिरावट आई। वहीं एक साल पहले समान महीने में इस क्षेत्र का उत्पादन 2.4 प्रतिशत घटा था।

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च प्रिंसिपल अर्थशास्त्री सुनील कुमार सिन्हा ने कहा, आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि मई और जून के महीने में देखी गई तेज रिकवरी अब कुछ हद तक कम होती जा रही है। इसका कारण देश के कई हिस्सों में स्थानीय या आंशिक या सप्ताहांत बंद है, जो अक्सर बिना किसी अग्रिम सूचना के लागू कर दिया जाता है।

उन्होंने कहा कि इससे आर्थिक गतिविधियों की क्रमिक रूप से रिकवरी में बाधा उत्पन्न हो रही है।

–आईएएनएस

एकेके/जेएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
कोरोना महामारी के कारण जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत घटा 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

कोहली एंड कंपनी को रोकने के लिए हमारे पास योजना : कुंबले

दुबई, 24 सितम्बर (आईएएनएस)। किंग्स इलेवन पंजाब के मुख्य कोच अनिल कुंबले का मानना है कि दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली हार से टीम...
- Advertisement -

कंगना ने भिवंडी इमारत दुर्घटना पर महाराष्ट्र सरकार को घेरा

मुंबई, 24 सितम्बर (आईएएनएस)। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के भिवंडी में इमारत ढहने की घटना पर शिवसेना सरकार को आड़े हाथों लिया...

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खुद का नाम बदलने की याचिका खारिज की

लखनऊ, 24 सितंबर (आईएएनएस)। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने खुद का नाम बदलने की गुहार लगाने वाली याचिका को खारिज कर दिया है। इस याचिका...

तीन हफ्ते बाद फिर खोला गया नेपाल-चीन बॉर्डर

काठमांडू , 24 सितम्बर (आईएएनएस)। तीन सप्ताह तक बंद रहने के बाद गुरुवार को नेपाल-चीन बॉर्डर को एक बार फिर से खोल दिया गया...

Related news

प्रधान पिंकी चौधरी की अशोक को छोड़ नए प्रेमी के साथ भागने की अफवाह?

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति क्षेत्र से प्रधान पिंकी चौधरी के 1 महीने पहले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने...

डीजल के दाम में गिरावट पर 6 दिन बाद लगा ब्रेक, पेट्रोल भी स्थिर

नई दिल्ली, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। डीजल के दाम में लगातार छह दिनों से जारी गिरावट पर बुधवार को ब्रेक लग गया और पेट्रोल के...

सचिन पायलट को फंसाने चले थे, अशोक गहलोत खुद आये लपेटे में

भोपाल/जयपुर। मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के पूर्व...

बेनीवाल हो या पायलट, तीखे तेवर नहीं तो सोशल मीडिया पर “नेताजी” की पूछ नहीं

रामगोपाल जाट। यदि नेताजी ने अपने तीखे तेवर छोड़ दिये तो उनके प्रशंसक भी किनारा कर लेते हैं। जो नेता जितना ज्यादा...
- Advertisement -