29 C
Jaipur
रविवार, सितम्बर 20, 2020

सेंसेक्स 95 अंक फिसलकर 39000 के नीचे बंद (लीड-1)

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई, 3 सितम्बर (आईएएनएस)। भारतीय शेयर बाजार लगातार दो दिनों की तेजी के बाद गुरुवार को कमजोरी के साथ बंद हुआ। सेंसेक्स पिछले सत्र से 95 अंक फिसलकर 39,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे बंद हुआ और निफ्टी भी करीब आठ अंक फिसलकर 11,527 पर बंद हुआ।
सेंसेक्स पिछले सत्र से महज 95.09 अंकों यानी 0.24 फीसदी की गिरावट के साथ 38,990.94 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 7.55 अंकों यानी 0.07 फीसदी की कमजोरी के साथ 11,527.45 पर ठहरा।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 79.77 अंकों की तेजी के साथ 39,165.80 पर खुला और 39,236.36 तक उछला, जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स का निचला स्तर 38,943.43 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र से 31.20 अंकों की बढ़त के साथ 11,566.20 पर खुला और 11,584.95 तक उछला। जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान निफ्टी का निचला स्तर 11,507.65 रहा।

हालांकि बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सत्र से 59.91 अंकों यानी 0.40 फीसदी की तेजी के साथ 15,079.08 पर बंद हुआ और स्मॉल कैप सूचकांक 108.95 अंकों यानी 0.74 फीसदी की तेजी के साथ 14,761.33 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 12 शेयरों में तेजी रही, जबकि 16 शेयर के साथ बंद हुए।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में टाइटन (5.71 फीसदी), टेक महिंद्रा (3.35 फीसदी), नेस्ले इंडिया (2.46 फीसदी), मारुति (2.17 फीसदी) और सन फार्मा (1.69 फीसदी) शामिल रहे।

जबकि सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में आईसीआईसीआई बैंक (2.42 फीसदी), भारती एयरटेल (2.23 फीसदी), एक्सिस बैंक (2.02 फीसदी), कोटक बैंक (1.81 फीसदी) और पावरग्रिड (1.57 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों में से 12 सेक्टरों में तेजी रही जबकि सात सेक्टरों के सूचकांक गिरावट के साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच सेक्टरों के सूचकांकों में कंज्मूर ड्यूरेबल्स (3.37 फीसदी), आईटी (1.51 फीसदी), टेक (1.34 फीसदी), कंज्यूर डिस्क्रेशनरी गुड्स एंड सर्विसेस (1.01 फीसदी) और कैपिटल गुड्स(0.99 फीसदी) शामिल रहे।

वहीं, सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों के सूचकांकों में बैंक इंडेक्स (1.51 फीसदी), वित्त (0.94 फीसदी), धातु (0.86 फीसदी), ऊर्जा (0.72 फीसदी) और रियल्टी (0.42 फीसदी) शामिल रहे।

–आईएएनएस

पीएमजे/आरएचए

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
सेंसेक्स 95 अंक फिसलकर 39000 के नीचे बंद (लीड-1) 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

देवीपाटन मंडल से मिटायेंगे पिछड़ेपन का दंश : मुख्यमंत्री

लखनऊ, 19 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बहराइच, श्रावस्ती और बलरामपुर जैसे आकांक्षात्मक जनपदों में विकास की असीम...
- Advertisement -

वायुसेना में काम कर रहीं 1,875 महिला अधिकारी : श्रीपद नाइक

नई दिल्ली, 19 सितंबर (आईएएनएस)। संसद में शनिवार को रक्षा राज्यमंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि भारतीय वायुसेना में महिला अधिकारियों की संख्या 1,875...

सुशांत मामले में गहरा रहा रहस्य, विसरा ठीक से संरक्षित नहीं

नई दिल्ली, 19 सितंबर (आईएएनएस)। सुशांत मामले में ऐसे संकेत मिले हैं कि मुंबई पुलिस या मेडिकल बोर्ड की ओर से लापरवाही बरती गई...

चीन के सीमावर्ती अरुणाचल के गांव में सेना ने दी फोन कनेक्टिविटी

इटानगर, 19 सितंबर (आईएएनएस)। भारतीय सेना ने चीन के सीमावर्ती अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी कामेंग जिले के मागो-चूना के दूरदराज गांव के ग्रामीणों के...

Related news

पिंकी प्रधान आशिक की तीसरी पत्नी बनने से पहले एक साल लिव इन रिलेशनशिप में रही!

बाड़मेर। 'पिंकी प्रधान' उर्फ समदड़ी पंचायत समिति प्रधान पिंकी चौधरी अपने आशिक अशोक चौधरी की तीसरी पत्नी बनने से पहले एक साल...

पिंकी चौधरी भागने वाली लड़कियों की रोल मॉडल बनी, चार लड़कियों ने ली प्रेरणा और प्रेमियों के साथ भाग गईं

बाड़मेर/टोंक। पिछले महीने बाड़मेर के समदड़ी पंचायत समिति की प्रधान पिंकी चौधरी के घर से भागने और आपने प्रेमी अशोक चौधरी के...

बाड़मेर: लड़की भगा ले गया शिक्षक, मिलते ही घरवालों ने किया ऐसा हाल

बाड़मेर। राजस्थान के सीमावर्ती जिले बाड़मेर में एक स्कूल के अध्यापक पर जानलेवा हमले और नाक व दोनों कान काटने की घटना सामने...

किसानों को बहकाने और बरगलाने का काम कर रहे कांग्रेस-वामपंथी दल

-मोदी सरकार के तीनों ही विधेयक क्रांतिकारी हैं, किसान को मिलेगी तरक्की, मजबूती और ताकत। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने हमेशा किसानों,...
- Advertisement -