bjp rajasthan
bjp rajasthan

जयपुर। लोकसभा चुनाव 2019 से पहले शहर के समीकरणों को देखकर भाजपा घबरा गई है। अब महापौर पद पर क्रॉस वोटिंग करने वाले पार्षदों पर डोरे डालने में लगी है।

कहा जा रहा है कि भाजपा से निष्कासित किए गए 9 पार्षदों का निष्कासन समाप्त किया जा सकता है, ताकि चुनावों में इसका फायदा लिया जा सके।

निगम में समितियों के गठन के बाद शहर भाजपा के पदाधिकारियों ने कुछ विधायकों के दबाव में नौ पार्षदों को पार्टी से निष्कासित करवा दिया था। निष्कासित पार्षदों का कहना है कि राजनीतिक कारणों से उन्हें निशाना बनाया गया।

इनमें से अशोक गर्ग और अनिल शर्मा तो ऐसे थे जिन्होंने समितियों में भी कोई पद नहीं लिया था, लेकिन यह दोनों विधायक कालीचरण सराफ के विरोधी माने जाते थे।

भाजपा को डर था कि लोकसभा चुनावों में पार्टी के प्रत्याशी रामचरण बोहरा को मालवीय नगर से भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है, क्योंकि सराफ यहां मात्र 1700 वोटों से जीते थे।

ऐसे में यहां के दो बड़े पार्षदों की नाराजगी भारी पड़ सकती थी। वहीं दूसरी ओर सांगानेर में विष्णु लाटा भी बोहरा को भारी नुकसान पहुंचाने में सक्षम हो चुके हैं।

इसी तरह पार्टी से निष्कासित अन्य पार्षद भी पार्टी प्रत्याशी की खिलाफत कर सकते हैं।

बाड़ाबंदी के दौरान उपमहापौर मनोज भारद्वाज को प्रत्याशी बनाए जाने से नाराज अन्य पार्षद भी पार्टी को नुकसान पहुंचा सकते हैं, क्योंकि वह भी लंबे समय से पार्टी में सुनवाई नहीं होने से नाराज चल रहे हैं।

पार्टी को सांगानेर, मालवीय नगर, परकोटे के दो क्षेत्रों किशनपोल और हवामहल व विद्याधर नगर में गड़बड़ दिखाई दे रही थी।

इसी के चलते पार्टी ने निष्कासित किए पार्षदों को फिर से पार्टी की ओर खींचने की कोशिशें तेज कर दी है। कहा जा रहा है कि जल्द ही इनका निष्कासन समाप्त किया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि महापौर चुनाव से पूर्व भाजपा पार्षदों की एक होटल में बाड़ाबंदी की गई थी।

इस बाड़ाबंदी में ही 30 से अधिक पार्षदों ने मनोज भारद्वाज को महापौर बनाने के विरोध में एक कागज पर हस्ताक्षर किए थे।

इसका पता चलते ही शहर भाजपा के नेताओं ने इस कागज को फड़वा दिया था। इस दौरान दूसरे दावेदार विष्णु लाटा होटल से फरार हो गए और महापौर पद का नामांकन दाखिल कर दिया।

कुछ भाजपा पार्षदों ने क्रॉस वोटिंग की और लाटा महापौर बन गए। तभी से शहर में भाजपा के समीकरण एकदम गड़बड़ाए हुए हैं।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।