Jaipur

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के टिकट पर राजस्थान विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष बनने वाले अशोक लाहोटी, जो कि वर्तमान में सांगानेर विधानसभा से विधायक हैं।

उन्होंने राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा को लेकर एक अभद्र टिप्पणी कर दी, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

शुक्रवार को राजस्थान की सभी जिला मुख्यालयों पर भारतीय जनता पार्टी की तरफ से राज्य सरकार की नाकामियों और बढ़ते अपराधों को लेकर धरना प्रदर्शन था।

इसी सिलसिले में जयपुर कलेक्ट्रेट पर जयपुर जिले के विधायकों और बीजेपी के तमाम छोटे-बड़े कार्यकर्ताओं ने धरना दिया।

इस मौके पर धरने में शामिल कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सांगानेर से भाजपा के विधायक अशोक लाहोटी ने महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा को लेकर कहा कि “सुमन शर्मा जी उनका पेंट खींच रही हैं, इसको लेकर मैं उनके खिलाफ 354 में मुकदमा भी दर्ज नहीं करवा सकता, और सुमन शर्मा का कालीचरण सराफ आंचल खींचते हैं, उनके खिलाफ सुमन शर्मा कुछ नहीं करती है।”

यहां क्लिक करके देखिए पूरा वीडियो

इसके बाद पार्टी के अन्य पदाधिकारियों द्वारा इशारा करने और सुमन शर्मा के कहने पर लाहोटी में अपने बयान में सफाई देते हुए कहा कि सुमन शर्मा उनकी बड़ी बहन है और उनका आदेश बैठने के लिए हो गया है, इसलिए वह बैठ रहे हैं।

दरअसल तकरीबन सभी नेताओं के द्वारा उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधन दिया गया था। इस दौरान अशोक लाहोटी काफी देर तक बोलते रहे।

उनके पास में ही बैठी सुमन शर्मा ने नीचे से पेंट को टच करते हुए बैठने का इशारा किया, जिसके बाद अशोक लाहोटी ने यह बात कही।

जयपुर के पूर्व मेयर रहे अशोक लाहोटी की टिप्पणी को राजनीति में जायज नहीं कहा जा सकता, और सामाजिक तौर पर इसकी जितनी भर्त्सना की जाए उतनी कम है।

आरएसएस जैसे सामाजिक संगठन, जो कि खुद सभ्य संगठन होने का दावा करता है, उससे संबंध रखने वाले बीजेपी विधायक अशोक लाहोटी का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसको लेकर लोग न केवल बीजेपी और आरएसएस को लेकर कमेंट कर रहे हैं, बल्कि साथ ही साथ अशोक लाहोटी को बहुत भला बुरा कह रहे हैं।

भाजपा की तरफ से इसको लेकर अभी तक कोई बयान नहीं आया है, जो युवा सोशल मीडिया यूज करते हैं, वो इस बयान को लेकर मर्यादित पार्टी कही जाने वाली भाजपा की जबरदस्त खिंचाई कर रहे हैं।