Jaipur news।

आज भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक जयपुर के नारायण सिंह सर्किल स्थित ‘‘तोतुका भवन’’ में आयोजित हुई, जिसमें प्रदेश के सभी जीतें हुए सांसदों का एवं प्रदेश से केन्द्र में बने मंत्रियों का राजस्थान की परम्परा के अनुरूप साफा एवं दुपट्टा पहनाकर सम्मान किया गया।

बैठक में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी. सतीश, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी, प्रतिपक्ष नेता गुलाबचन्द कटारिया, प्रतिपक्ष उपनेता राजेन्द्र राठौड़, प्रदेश संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, कैलाश चौधरी, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय सह-प्रभारी डाॅ. अरूण चतुर्वेदी, सदस्यता अभियान के प्रदेश प्रभारी सतीश पूनिया, सह-प्रभारी सी.पी. जोशी उपस्थित रहे।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि राष्ट्र के प्रत्येक व्यक्ति को यह संदेश मिले कि कार्यकर्ताओं के अथक प्रयास से नरेन्द्र मोदी को दुबारा प्रधानमंत्री बनने का जो अवसर मिला है उसमें बूथ जीता, सभी चुनाव जीता, हम एक बार फिर 35 शुक्र की ओर अग्रसर है। आज का जो समय है उसमें राज्य की सत्ता हमारे पास नहीं है फिर भी लोकसभा में कार्यकर्ताओं ने पुनः जो अथक प्रयास किये उसका परिणाम है कि हम इतिहास रचकर दूसरी बार 25 के 25 सांसद जीता सकें।

अब हमारे सामने निकाय, पंचायत, पालिका के चुनाव की चुनौती है। राज्य सरकार ने अपने स्तर पर सीमांकन का फैसला किया है। हम सब मिलकर एक तरफा निर्णय नहीं होने देंगे। एक सशक्त विपक्ष होने के नाते हमारी जिम्मेवारी बढ़ जाती है।

सैनी ने कहा कि सरकार का ध्यान बढ़ते अपराधों पर नहीं, रोज हो रहे बलात्कारों पर नहीं, बजरी माफियाओं के ताण्डव पर नहीं, पुलिस पर हो रही गोलीबारी, बजरी माफिया द्वारा व्यक्ति को ट्रक के नीचे कुचलना, अपराधी बैखोफ घूम रहे है और कांग्रेस में सत्ता की लड़ाई चल रही है।

हम आदर्शवादी लोग है जो देश के बारे में सोचें और विचार करें। जो हमारे प्रेरणा पुरूष रहे हैं उनके पाठ्यक्रम में कांग्रेस की राज्य सरकार बदलाव कर रही है, जो कि ठीक नहीं है।

उसी के समकक्ष केन्द्र सरकार की जो योजनाऐं है उन्हें राज्य सरकार परिणीत नहीं कर रही। भामाशाह योजना को बंद करना, आयुष्मान भारत योजना को लागू नहीं करना, ठेकेदारों का भुगतान नहीं हो रहा, कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा, कानून व्यवस्था चैपट है, जनता पानी-बिजली के लिए त्राहि-त्राहि कर रही है और सरकार के मुखिया एक परिवार की भक्ति में लगे हैं और राजनीतिक रोटियाँ सेंक रहे है।

वर्तमान में हमारे सामने अब सदस्यता अभियान की चुनौती है। हमें उन अनछुए स्थानों पर पहुँचना है जहाँ पर हमें कम वोट मिले।

राजस्थान के कार्यकर्ताओं एवं जनता को संसद के चुनावों में मिली ऐतिहासिक जीत के लिए कोटिशः धन्यवाद देता हूँ।

उन्होंने परिश्रम की पराकाष्ठा के आगे जाकर जो इतिहास रचा है वह इतिहास नगरपालिका, पंचायत और नगर निगम के चुनावों में भी कांग्रेस को शिकस्त देगा और भाजपा को जीत दिलायेगा।

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया ने कहा कि 68 वर्ष की तपस्या के बाद हमें यह दिन देखने को मिले है।

हमने कभी सोचा भी नहीं था राजस्थान के तपस्वी भैरोंसिंह शेखावत, सुन्दर सिंह भण्डारी, ललित किशोर चतुर्वेदी, भंवरलाल शर्मा, हरिशंकर भाभड़ा जैसे लोगों ने जो तपस्या पार्टी के लिए की वो समय आज हमें देखने को मिला है।

राष्ट्रवादी शक्तियों का राज आयेगा, कांग्रेस 25 में से 25 जीतने की बात कर रही थी इतना अभिमान कि वो अपने बच्चे को भी जीता नहीं पाई।

मूल्यों पर खड़ा होने वाला लोकतंत्र जिसे पहली बार जनता ने स्वीकार किया है। लोकसभा चुनाव में पहली बार 80 लाख से अधिक मतों से जीते।

नरेन्द्र मोदी की योजनाऐं अंतिम पंक्ति पर बैठे व्यक्ति तक पहुँची और उसी का परिणाम रहा कि गाँव में बैठा व्यक्ति भी मोदी जी को वोट देने की बात कह रहा था। हम पुनः आज सुचिता लाने का संकल्प लेकर यहाँ से जायेंगे।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस बार का लोकसभा चुनाव जनता ने स्वयं लड़ा और वोट सीधा मोदी जी को पुनः प्रधानमंत्री बनाने के लिए दिया।

कार्यकर्ताओं ने और हमने केवल जनता को बूथ पर ले जाने का काम किया। 303 जीतें सांसदों में 224 लोकसभा सीटों पर हमें 50 प्रतिशत से ज्यादा वोट मिलें।

2014 में हमें 17 करोड़ वोट मिले थे, जो 2019 में 303 सीटों पर 22 करोड़ हो गए, पिछले चुनावों के बदले इस बार हमें 5 करोड़ वोट अधिक मिले।

शुरू में लोगों में मोदी जी की योजनाओं को लेकर विपक्ष ने भ्रम फैलाया। लेकिन जैसे-जैसे योजनाऐं सफल होती चली गई वैसे-वैसे आमजन में उनका विश्वास बढ़ता चला गया।

उन्होंने कहा कि 5 साल की ईमानदारी की सरकार के लिए राहुल गाँधी ने कहा था कि मैं ऐसा नारा दूंगा कि सब चैंक्कने हो जायेंगे ‘‘चौकीदार चोर है’’ जिसको जनता ने सिरे से नकार दिया और राहुल को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी पड़ी।

केन्द्र की मोदी सरकार ने व्यापारी की पेंशन योजना, मजदूर की पेंशन, किसान सम्मान निधि के 6 हजार प्रतिवर्ष, 3 हजार रूपये पेंशन जैसी योजनाऐं लाकर कैबिनेट की पहली मीटिंग में ही लागू करने की घोषणा की है।

उन्होंने वरिष्ठ कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियों, सांसदों एवं विधायकों को आह्नान करते हुए कहा कि लाभार्थियों से निरन्तर सम्पर्क में रहे और उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने का आग्रह करें।

सांसद फण्ड का सदुपयोग हो, कार्यकर्ताओं एवं जनप्रतिनिधियों के सुझाव पर फण्ड से विकास कार्य करवाया जावे।

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार का लाॅ एण्ड आॅर्डर बिल्कुल पंगु हो चला है। जिसके खिलाफ भी हमें आवाज उठानी है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव के 5 महीने बाद ही राजस्थान की जनता कांग्रेस की सरकार से इतना परेशान हो चुकी है कि 185 विधानसभा सीटों पर लोकसभा चुनाव में हमें बढ़त मिली है।

मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री के बूथ पर भी कांग्रेस नहीं जीत पाई और कांग्रेस के 18 उम्मीदवार अपने बूथ पर भी नहीं जीत सके। इन सबके लिए हमारे करिश्माई नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का आभार व्यक्त करना चाहिए।

ऐसा नेतृत्व ना भूतो ना भविष्यत कोई आयेगा। जिस सरकार पर एक भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं, साम्प्रदायिक और आतंकवाद की घटना नहीं, पुलवामा की एक घटना हुई तो उसका ऐसा जवाब दिया कि दुनियां ने देखा, दुनियां में भारत का नाम हुआ और अब एक दिन भारत अवश्य विश्व गुरू बनेगा।

यह सब सामने देखने को मिल रहा है। प्रधानमंत्री आज उस रास्ते पर चल पड़े है जो देश को विश्व गुरू बनायेगा।

उन्होंने कहा कि हमारी राज्य सरकार ने जब गरीब कल्याण योजना के अन्तर्गत गरीब को योजना से जोड़ने का काम किया था, हमने वर्ष 2018 में लाभार्थी सम्मेलन आयोजित किया था, जिसमें 3.50 लाख लाभार्थियों ने भाग लिया।

प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्जवला योजना, जन-धन योजना, मुद्रा योजना, पैसा सीधा खाते में इन सब योजनाओं का सीधा असर लोकसभा के चुनावों पर पड़ा।

जिससे हम 25 की 25 सीटें जीत पायें। पन्ना प्रमुख, बूथ, शक्ति केन्द्र, मण्डल, एवं सभी जिलों के कार्यकर्ताओं ने लोकसभा चुनाव में जो काम किया उसके लिए मैं प्रदेशाध्यक्ष को, प्रदेश की टीम को एवं विस्तारकों को धन्यवाद देती हूँ। इन सबका कार्य सराहनीय रहा।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर ने आगामी कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए कहा कि 21 जून को योग दिवस, 22-23 जून को डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी एवं सुन्दर सिंह भण्डारी की जयंती, 24 जून को मण्डल स्तर पर सम्मान समारोह, 25 जून को लोकतंत्र बचाओ दिवस (आपातकाल), 30 जून को प्रधानमंत्री की पुनः ‘‘मन की बात’’ कार्यक्रम की शुरूआत, 6 जुलाई को सदस्यता अभियान कार्यक्रम की शुरूआत की जायेगी।

आप सभी दायित्ववान कार्यकर्ता हैं। आप सभी को आगामी कार्यक्रमों में अपना सहयोग देना है ताकि हम सदस्यता अभियान में विश्व की सबसे पार्टी के स्थान को कायम रख सकें।

इस अवसर पर उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने राजनीतिक प्रस्ताव रखा, जिसका समर्थन विधायक जोगेश्वर गर्ग, रामलाल शर्मा एवं सांसद जसकौर मीणा ने किया तथा पूरी कार्यसमिति ने हाथ उठाकर उसका अनुमोदन किया।

भाजपा के राष्ट्रीय सह-संगठन महामंत्री वी. सतीश ने समापन सत्र को सम्बोधित करते हुए कहा कि ‘‘अजेय राजस्थान-अटल भाजपा’’ नारे पर हमें कार्य करना है। संगठन पर्व की शुरूआत होगी उसमें हमें बूथ कमेटी को सर्वप्रथम मजबूत करते हुए रचना बनानी है।

नई पीढ़ि को भी हमें आगे आने का मौका देना चाहिए। उन्होंने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार पारदर्शिता, कार्यक्षमता, संवेदनशीलता, व्यापक जन आधार एवं गरीबों का विकास इन पाँच महत्वपूर्ण बिन्दुओं को लेकर कार्य कर रही है।

प्रदेश कार्यसमिति की इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष, जिला संगठन प्रभारी, लोकसभा प्रभारी, सहप्रभारी, संयोजक व सह-संयोजक, लोकसभा व राज्यसभा सांसद, विधायक, जिला प्रमुख एवं महापौर,

लोकसभा विस्तारक व विस्तारक सम्भाग प्रभारी, मोर्चों के राष्ट्रीय पदाधिकारी एवं मोर्चों के प्रदेशाध्यक्ष व प्रदेश महामंत्री, प्रकोष्ठ, प्रकल्प एवं विभाग के प्रदेश प्रमुख, भाजपा मीडिया, प्रदेश प्रवक्ता एवं पैनालिस्ट, सोशल मीडिया, नमो एप, संकल्प से सिद्धि एवं विधि प्रदेश संयोजक, प्रदेश चुनाव प्रबंधन सहित कार्यसमिति सदस्य व कई पदाधिकारी उपस्थित रहे।