Jaipur

पूर्ण बहुमत नहीं होने के कारण 14 महीने बाद कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस की सरकार गिर चुकी है, वहां पर भारतीय जनता पार्टी के बीएस येदुरप्पा मुख्यमंत्री हैं।

इसको करीब एक महीना भी पूरा नहीं हुआ है कि अब मध्य प्रदेश में भी बीजेपी की सरकार बनने की चर्चा शुरू हो चुकी है।

इसी को लेकर सोमवार को जयपुर प्रवास के दौरान मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया गया तो उन्होंने शायराना अंदाज में कहा कि “दिल के टुकडे हुए हजार, कोई इधर गिरा कोई उधर गिरा”, अगर कांग्रेस का कोई टुकड़ा कहीं भी गिरता है तो उसके लिए बीजेपी जिम्मेदार नहीं है।

शिवराज सिंह चौहान के इस शायराना अंदाज में दिए गए जवाब स्पष्ट तौर पर यह कहना अतिशयोक्ति पूर्ण नहीं होगा कि संभवतः जिस तरह की राजनीतिक उठापटक चल रही है, उसमें मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार कभी भी खत्म हो सकती है और वहां पर भाजपा के शिवराज सिंह चौहान चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।

शिवराज सिंह चौहान सोमवार को सदस्यता अभियान की समीक्षा के लिए जयपुर आए हुए थे। उन्होंने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कांग्रेस पार्टी पर कई गंभीर आरोप लगाए।

शिवराज सिंह चौहान ने धारा 370 को लेकर कांग्रेस का स्टैंड साफ नहीं होने की बात कहते हुए सवाल किया कि राहुल गांधी, मैडम सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा स्पष्ट तौर पर बताएं कि वह धारा 370 पर सरकार के साथ है, या सरकार के खिलाफ?

उन्होंने इस बात की खुशी जाहिर की, कि कांग्रेस के भीतर अधिकांश लोग इस बात से खुश हैं कि धारा 370 हटाई गई है। कल ही हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के द्वारा कहा गया था कि कांग्रेस रास्ते में भटक गई है।

ऐसे ही कई अन्य नेताओं ने धारा 370 को लेकर मोदी सरकार की प्रशंसा की है। खेल मंत्री अशोक चांदना इस मामले में मोदी सरकार की सराहना की थी।

इसके साथ ही मध्य प्रदेश से बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी ट्वीट करते हुए मोदी सरकार के फैसले पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए सपोर्ट करने का ऐलान किया था, तभी से यह लग रहा था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया कभी भी बीजेपी की तरफ हो सकते हैं।

बताया जा रहा है कि आज ही ज्योतिरादित्य सिंधिया और गृहमंत्री अमित शाह के बीच एक मुलाकात हुई है। जिसके बाद अब सियासी हलकों में चर्चा तेज हो गई है कि मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार अधिक दिनों तक टिकने वाली नहीं है।

जयपुर प्रवास के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार सरकारें बीजेपी की कमी से नहीं बनी थी, बल्कि कांग्रेस के झूठ के कारण बनी थीं।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने कहा था कि 10 दिन में कर्ज माफ नहीं हुआ तो मुख्यमंत्री बदल दूंगा, लेकिन 8 महीने में संपूर्ण कर्जा माफ नहीं होने के बावजूद इन राज्यों में एक भी मुख्यमंत्री नहीं बदला गया।

बीजेपी सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय संयोजक शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राहुल गांधी अपनी बात पर अडिग रहते तो अब तक पता नहीं कितने मुख्यमंत्री बदल जाते?

इसके साथ ही शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जो सरकार 56 साल तक तीन तलाक को खत्म नहीं कर पा रही थी, उसको जनता ने बिठा दिया और मोदी सरकार ने अपने 70 दिन के एजेंडे में ही चिंता को समाप्त कर दिया।

यह मुस्लिम बहनों के साथ बहुत बड़ा न्याय का काम किया है। इसके लिए भी उन्होंने कांग्रेस की तुष्टिकरण की राजनीति को जिम्मेदार ठहराया राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में बढ़ते अपराध को लेकर भी शिवराज सिंह चौहान कांग्रेस सरकारों की कड़ी आलोचना की।

बीजेपी के दिग्गज शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राजस्थान में भी कांग्रेस एकजुट नहीं है, यहां पर मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री लड़ रहे हैं।

यही हालत रहे तो भविष्य का पता नहीं कब क्या हो जाये। मुख्यमंत्री आ रहे रहे हैं और कभी भी इधर उधर हो सकते हैं।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अशोक गहलोत सरकार तुष्टिकरण की राजनीति के साथ काम कर रही है।

यही कारण है कि अलवर में गैंगरेप की कई घटनाएं हो चुकी है। अलवर में हत्या कर दी जाती है, दिनदहाड़े गैंग रेप हो रहे हैं।

जयपुर में कांवड़ियों पर हमले किए जा रहे हैं। अलवर में जब पहलू खान की हत्या होती है तो कांग्रेस सरकार को मॉब लिंचिंग लगती है और जब दलित व्यक्ति हरीश जाटव की हत्या एक समुदाय विशेष के लोगों के द्वारा पीट कर हत्या कर दी जाती है तो उसको मॉब लिंचिंग नहीं माना जाता है।

यही कांग्रेस सरकार की तुष्टीकरण की राजनीति हमेशा से चलती रही है, जिसका खामियाजा इनको भुगतना पड़ा और अब सत्ता से साफ हो चुके हैं।

इसके साथ ही शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी ने अपने 50 लाख सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा था, उसको हासिल करते हुए पार्टी अब तक 47 लाख से अधिक सदस्य बना चुकी है।

पूरे देश में पार्टी ने 11 करोड़ सदस्यों के बाद उसमें 20% का इजाफा करने का लक्ष्य रखा था, लेकिन अब तक साढे तीन करोड़ से ज्यादा सदस्य जुड़ चुके हैं, ऐसे में पार्टी बड़े स्तर पर काम कर रही है।

एक सवाल के जवाब में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पार्टी जम्मू कश्मीर में भी सदस्य जोड़ने में कामयाब हुई है और वहां पर बहुत तेजी से लोग बीजेपी की तरफ बढ़ रहे हैं। वहां पर टोलियां बनाकर सदस्य जोड़ने का काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि वे खुद भी जम्मू कश्मीर में 3 दिन रहे हैं और वहां उम्मीद से अधिक सदस्य बीजेपी के साथ जोड़ रहे हैं।

राजस्थान के संयोजक सतीश पूनिया ने भी इस अवसर पर राजस्थान के लोगों का धन्यवाद दिया, जो बीजेपी के साथ जुड़ रहे हैं। इस मौके पर शिवराज सिंह चौहान ने लगातार कांग्रेस पर हमले किए।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया, लेकिन जिम्मेदार लोग हैं, उनमें से किसी ने भी पद नहीं छोड़ा। ऐसे में स्पष्ट रूप से समझ में आता है कि पार्टी की क्या सोच है।

उन्होंने कहा कि कभी मां और कभी बेटा अध्यक्ष बन जाते हैं, पार्टी में कोई संविधान नहीं है, लोकतंत्र की कोई गुंजाइश नहीं है। ऐसे में देश की जनता ने कांग्रेस को उखाड़ फेंकने का निर्णय लिया है।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह, कृष्ण और अर्जुन की जोड़ी है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यह चीज बताने की जरूरत नहीं है कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह में से कौन अर्जुन है और कौन है।

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यह भगवान का वरदान है कि नरेंद्र मोदी भारत में पैदा हुए हैं और भारत के प्रधानमंत्री हैं।