जयपुर।

चुनाव नजदीक आने के साथ ही राजनिति पार्टियों ने हमले तेज़ कर दिए हैं। कल जयपुर में होने वाली कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने आज कई सवाल दागकर कांग्रेस को घेरने का प्रयास किया।

बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और सामाजिक न्याय मन्त्री रहे अरुण चतुर्वेदी ने मीडिया से बात करते हुए किसान कर्जमाफी, बेरोजगारी, बिजली, पानी, जैसे मुद्दों को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष से जवाब मांगें हैं।

साथ ही आयुष्मान भारत योजना को लागू किये बगैर ही भामाशाह योजना को बंद कर दिया गया। इस योजना के तहत हर कार्डधारक को 30 हज़ार से 3 लाख तक का इलाज़ फ्री चल रहा था।

भाजपा के सवाल, जिनपर कहा: राहुल गांधी हिसाब देकर जाएं-

-10 दिन में ऋणमाफी का क्या हुआ?
-59 लाख कृषकों के 99000 करोड़ कर्ज में केवल 1500 करोड़ माफ़ क्यों किया गया?

-खाद, बीज, नहीं मिला? दिन में बिजली नहीं, रात को बिजली की वजह से किसान रात को खेत में क्यों मर रहे हैं?
-सरकार बनते ही यूरिया के बदले लाठियां मिलीं, क्यों?

-बेरोजगारों को 3500 की जगह केवल 3000, और वह 33 लाख में से केवल 52000 को आश्वासन मिला है, पैसा नहीं मिला, क्यों?
-जबकि 33 लाख बेरोजगारों में से केवल 52000 को ही आश्वासन क्यों?

-आयुष्मान भारत लागू क्यों नहीं, और भामाशाह योजना को बंद क्यों किया?
-90 दिन में 200 की स्वाइन फ्लू से मौत क्यों?
-लोगों को पीने के पानी की समस्या क्यों?

-बिजली कटौती, जयपुर जैसे शहर में क्यों?
-राहुल गांधी वीरों की धरती पर आये तो जवाब दें कि कांग्रेस नेताओं के सेना पर प्रश्नचिन्ह और छींटाकसी का जवाब दें?

-सरसों के दाम नहीं मिल रहे हैं, जवाब दें, 90 दिन बाद भी सरकार में लागू नहीं हुआ इसका भी जवाब दें।

-12000 रूपये पर बोले: झूठ बोलकर घोषणा कर देते हैं, उसका रोडमेप देकर जाएं।
-10 दिन में कर्जमाफी का वादा था, अब तक केवल 1500 करोड़ का कर्ज़माफ क्यों?