हनुमान बेनीवाल हमारे दरियां बिछाता था, ड्राइवर था, जयकारे लगाता था-मिर्धा

309
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

नागौर।

कांग्रेस नेत्री और मिर्धा परिवार की लाडली ज्योति मिर्धा ने हनुमान बेनीवाल पर व्यक्तिगत हमला किया है। ज्योति के बयान को लेकर राजनीतिक हलकों में तूफान आ गया है।

ज्योति ने हनुमान बेनीवाल को लेकर कहा है कि जब हम बच्चे थे, तब हनुमान बेनीवाल हमारे यहां दरियां उठाता था, उनकी बुआ चुनाव लड़तीं थीं, तब वह ड्राइवरी करते था, और नाथूराम मिर्धा की सभाओं में जयकारे लगाता था।

ज्योति मिर्धा ने खींवसर में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हनुमान बेनीवाल के कोई भी साथ नहीं है, वह केवल झूठ बोलता है और युवाओं को बरगलाता है।

ज्योति मिर्धा के बयान को लेकर सोशल मीडिया पर जबरदस्त खिंचाई हो रही है। जिसको लेकर उनके ही परिवार की सुमन मिर्धा ने अपने फेसबुक अकाउंट पर लिखा है कि डॉक्टर ज्योति के विवादित बयान का मिर्धा परिवार से कोई लेना देना नहीं है।

गौरतलब है कि हनुमान बेनीवाल खींवसर विधानसभा से लगातार तीसरी बार विधायक का चुनाव लड़ रहे हैं। उनको यहां पर काफी मजबूत उम्मीदवार माना जा रहा है।

2008 में वह बीजेपी की टिकट पर विधायक बने थे, उसके बाद 2009 में बीजेपी के साथ संबंधों में खटास आने के कारण उनको निलंबित कर दिया गया था।

2013 में उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा और मोदी लहर में जीत कर विधानसभा तक पहुंचे थे। 2014 में उन्होंने नागौर से लोकसभा का चुनाव लड़ा था, लेकिन सीआर चौधरी के सामने हार गए थे। कांग्रेस पार्टी से ज्योति मिर्धा लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार थीं।

हनुमान बेनीवाल इन दिनों अपनी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सिंबल पर उतारे गए 57 उम्मीदवारों के चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। वह खुद भी खींवसर से प्रत्याशी हैं।